कन्हैयालाल हत्याकांड : उदयपुर में कर्फ्यू के 5वें दिन दी गई 4 घंटे की ढील

उदयपुर। राजस्थान के उदयपुर शहर में कन्हैयालाल हत्याकांड के बाद उत्पन्न तनाव के बाद विभिन्न थाना क्षेत्रों में लगाए गए कर्फ्यू में आज पांचवें दिन पहली बार चार घंटे की ढील दी गई।

शहर के धानमंडी, घंटाघर, हाथीपोल, अंबामाता, सूरजपोल, सविना, भूपालपुरा, गोवर्धनविलास, हिरणमगरी, प्रतापनगर एवं सुखेर धानमंडी, घण्टाघर, अम्बामाता, हाथीपोल, सूरजपोल, भूपालपुरा एवं सवीना में आज दोपहर बारह से शाम 4 बजे तक कर्फ्यू में ढील दी गई।

इस दौरान इन क्षेत्रों में खुली दुकानों पर लोग अपनी जरूरत के सामान की खरीददारी करते नजर आए। ढील के दौरान बाजार खुलने से काफी चहल पहल नजर आई। इस दौरान शांति बनी रही और कहीं से कोई अप्रिय खबर प्राप्त नहीं हुई।

इस ढील में शांति के मद्देनजर जिला मजिस्ट्रेट ताराचंद मीणा ने आज एक आदेश जारी कर तीन जुलाई को कर्फ्यू में दस घंटे की छूट प्रदान की है। इस आदेश के तहत रविवार सुबह आठ से शाम छह बजे तक कर्फ्यू में छूट रहेगी।

उल्लेखनीय है कि गत 28 जून को उदयपुर शहर के धानमण्डी थाना क्षेत्र में धारदार हथियारों से कन्हैयालाल की हत्या कर देने के बाद उत्पन्न हालात के मद्देेनजर उस दिन रात आठ बजे से आगामी आदेश तक शहर के इन थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया था।

उदयपुर एवं राजसमंद में नेटबंदी की अवधि 24 घंटे बढ़ाई

राजस्थान में संभागीय आयुक्त राजेंद्र भट्ट ने एक आदेश जारी कर उदयपुर जिले में हुई अपराध की घटना के दृष्टिगत रखते हुए कानून एवं सुरक्षा व्यवस्था के लिए उदयपुर जिले के सम्पूर्ण क्षेत्र एवं राजसमंद जिले के भीम-देवगढ़ कस्बे में नेटबंदी की अवधि शनिवार से अगले 24 घंटे के लिए बढ़ा दी है।

इस आदेश के तहत संभागीय आयुक्त भट्ट ने शनिवार को तत्काल प्रभाव से आगामी 24 घंटे तक उदयपुर के सम्पूर्ण क्षेत्र एवं राजसमंद जिले के भीम-देवगढ़ क्षेत्र में इंटरनेट सेवा (लीज लाइन-ब्रॉडबैंड सेवाओं व लैंडलाइन फोन के साथ इंटरनेट सेवा को छोड़ते हुए) को निलंबित किया है।

कोटा संभाग में बूंदी को छोड़ सभी जगह से नेटबंदी हटाई

राजस्थान में कोटा संभाग के बूंदी नगर परिषद क्षेत्र को छोड़कर आज शाम से सभी चार जिलों में नेटबंदी समाप्त कर दी गई। संभागीय आयुक्त की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि बूंदी नगर परिषद सीमा क्षेत्र को छोड़कर चारों जिलों में नेटबंदी को आज शाम से हटाया जा रहा है।

बूंदी में पिछले महीने तीन जून को कलक्ट्री पर सभा में आपत्तिजनक और भड़काऊ देने भाषण देने के मामले में गिरफ्तार मौलाना मुफ्ती नदीम अख्तर सकाफी और उसके साथी मोहम्मद आलम रजा की कल गिरफ्तारी और आज उनको जमानत पर छोड़ने के न्यायालय के आदेश के बाद सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी की आशंकाओं को देखते हुए बूंदी नगर परिषद क्षेत्र में नेटबंदी अभी तक जारी रखी गई है लेकिन शेष संभाग में उदयपुर में कन्हैया लाल टेलर की नृशंस तरीके से हत्या के बाद बने हालात में लागू की गई नेटबंदी को आज शाम से पूरी तरह हटा लिया गया।

कन्हैयालाल हत्याकांड के 4 आरोपियों को 10 दिन के NIA रिमांड पर भेजा

उदयपुर के कन्हैयालाल हत्याकांड के विरोध में कोटा, अलवर,बारां बंद रहा