कानपुर में छात्रा के सुसाइड मामले में चौकी प्रभारी सहित तीन अरेस्ट

kanpur girl suicide case : Three arrested including Chowki incharge
kanpur girl suicide case : Three arrested including Chowki incharge

कानपुर/लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कानपुर में छात्रा आत्महत्या के प्रकरण में विश्वविद्यालय की विभागाध्यक्ष और संबंधित थाने के उपनिरीक्षक सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

इस मामले में लापरवाही बरतने के संबंध में अब तक तत्कालीन निरीक्षक समीर कुमार सिंह तथा मामले के प्रथम विवेचक उपनिरीक्षक चन्द्रभान एवं द्वितीय उपनिरीक्षक अजय कुमार मिश्रा को निलम्बित कर दिया गया है।

आधिकारिक प्रवक्ता के अनुसार पुलिस महानिदेशके ओपी सिंह के निर्देश पर यह कार्रवाई की गई। उन्होंने बताया कि गत सात फरवरी को कानपुर के कल्याणपुर थाने में पीड़ित मृतका छात्रा के पिता ने उसके सहपाठियों अनिकेत दीक्षित एवं अनिकेत पाण्डेय तथा विभागाध्यक्ष ममता तिवारी को आरोपी बनाते हुए धारा 354घ/504/506 के तहत मुकदमा दर्ज कराया था।

मामले की विवेचना उपनिरीक्षक चन्द्रभान चौकी प्रभारी विश्वविद्यालय द्वारा की गई थी, उनके स्थानान्तरण के बाद नए चौकी प्रभारी अजय कुमार मिश्रा ने विवेचना की और धारा 161 के तहत छात्रा का बयान लिया गया, जिसमें वादी मुकदमा तथा पीड़िता ने मुकदमें में किसी भी प्रकार की कार्रवाई कराने से इंकार करते हुए 164 का बयान कराने से मना करने का लिखित अनुरोध पत्र दिया था।

इसके बाद दो अप्रेल को पूर्वान्ह पीड़ित छात्रा ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। छात्रा के घर वालों ने यह आरोप लगाया कि उपरेाक्त अनुरोध पत्र उनसे विवेचक ने जबरदस्ती दबाव बनाकर लिखवाया है तथा प्रतिवादीगण अभी भी वादी तथा पीड़ित को मुकदमा वापस लेने की धमकी दे रहे हैं। इसी से क्षुब्ध होकर छात्रा ने आत्महत्या की।

मृतका के पिता के आरोपों की गम्भीरता को देखते हुए और उनकी लिखित तहरीर पर कल्याणपुर थाने पर बनाम अनिकेत दीक्षित, अनिकेत पाण्डेय, विभागाध्यक्ष ममता तिवारी, विश्वविद्यालय चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक अजय कुमार मिश्रा के विरूद्ध पंजीकृत कराया गया।

पुलिस महानिदेशक ने मामले को गंभीरता से लेते हुए कानपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी एवं कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए। निर्देशों के अनुपालन में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने विवेचना प्रभारी निरीक्षक बिठूर को स्थानान्तरित कर करते हुए। प्रभारी निरीक्षक थाना बिठूर द्वारा साक्ष्यों के आधार पर नामित अभियुक्त अनिकेत दीक्षित को गिरफ्तार किया गया।

साथ ही विवेचना में प्राप्त साक्ष्यों के क्रम में ममता तिवारी विभागाध्यक्ष बीसीए छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय कानपुर और उपनिरीक्षक अजय कुमार मिश्रा पूर्व चौकी प्रभारी को गिरफ्तार किया गया। शेष एक आरोपी अनिकेत पाण्डेय की गिरफ्तारी के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कानपुर नगर द्वारा 10 हजार रूपये का पुरस्कार घोषित किया गया है।

प्रकरण में लापरवाही बरतने के संबंध में अब तक तत्कालीन निरीक्षक समीर कुमार सिंह तथा मामले के प्रथम विवेचक उपनिरीक्षक चन्द्रभान एवं द्वितीय उपिनरीक्षक अजय कुमार मिश्रा को निलम्बित कर दिया गया है।