कराटे चैंपियन ने सेंगर के भतीजे के खिलाफ अश्लील वीडियो वायरल का मुकदमा दर्ज कराया

कराटे चैंपियन ने सेंगर के भतीजे के खिलाफ अश्लील वीडियो वायरल का मुकदमा दर्ज कराया
कराटे चैंपियन ने सेंगर के भतीजे के खिलाफ अश्लील वीडियो वायरल का मुकदमा दर्ज कराया

कानपुर। हत्या और रेप के आरोपी उन्नाव में बांगरमऊ के भारतीय जनता पार्टी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भतीजे के खिलाफ कराटे की राष्ट्रीय चैंपियन ने छेडछाड और धमकी देने का मामला दर्ज कराया है।

कानपुर में बर्रा क्षेत्र की निवासी एक युवती ने पुलिस में तहरीर दी है कि वर्ष 2015 से 2017 के बीच वह उन्नाव के एक सरकारी चिकित्सालय में संविदा पर फार्मासिस्ट के पद पर नौकरी कर रही थीं। उस दौरान विधायक के भतीजे मानवेंद्र सिंह उससे जबरदस्ती की थी। युवती ने मामले की रिपोर्ट उन्नाव महिला थाने में दर्ज कराई थी।

कराटे की स्कूल स्तर की राष्ट्रीय चैंपियनशिप जीतने का गौरव हासिल कर चुकी युवती का आरोप है कि विधायक का भतीजा होने के प्रभाव में मामले के गवाह पर एससीएसटी एक्ट का मामला दर्ज करा दिया गया और युवती को उसके परिवार के साथ जेल भिजवाने की धमकी देते हुए समझौता करा दिया गया जिसके बाद वह तबादला लेकर कानपुर आ गई फिर भी डॉ.मानवेंद्र की हरकतें बंद नहीं हुई।

युवती का आरोप है कि कुछ दिन पूर्व विधायक के भतीजे ने उसका अश्लील वीडियो और फोटो एडिट करके सोशल साइट्स पर वायरल कर दिया जिसकी जानकारी होने पर युवती और उसके परिजन ने बर्रा थाने में आरोपित मानवेंद्र सिंह और उसके साथियों के खिलाफ शिकायत करने थाने पहुंची लेकिन वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने उसको टरका दिया लेकिन युवती ने हार नहीं मानी और उच्च अधिकारियों को अपनी आपबीती सुनाई जिसके बाद पुलिस ने आनन-फानन में आईटी एक्ट में छेड़खानी की धारा में मुकदमा पंजीकृत किया।

इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक दक्षिण रवीना त्यागी ने बताया कि पुलिस पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं। पुलिस ने मामला दर्ज करने में कोई भी देरी नहीं की। शिकायत को गंभीरता से लेते हुए और आरोपों की जांच करते हुए डॉ मानवेंद्र समेत 7 लोगों के खिलाफ आईटी एक्ट व छेड़खानी की धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है। इस मामले में सख्त से सख्त कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए गए हैं।