कर्नाटक के शिवमोगा खदान विस्फोट में आठ लोगाें की मौत

शिवमोगा। कर्नाटक के शिवमोगा में खनन खदान विस्फोट में आठ लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए।

पुलिस सूत्रोें के मुताबिक विस्फोट में घायलोें में से शुक्रवार को दो और लोगों की मौत के साथ मृतकों का आंकड़ा आठ तक पहुंच गया। जिले में कथित तौर पर शक्तिशाली विस्फोट गुरुवार देर रात उस समय हुआ जब जिले के बाहरी इलाके में एक स्टोन क्रेशर सुविधा में जिलेटिन की छड़ें ट्रक में लदी हुई थी। इस विस्फोट के कारण शिवमोगा शहर और ग्रामीण इलाकों के घर क्षतिग्रस्त हो गए।

पुलिस ने बताया कि इस संबंध में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है और विस्फोट के उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं। गिरफ्तार किए गए लोगों में स्टोन क्रशिंग का ठेकेदार भी शामिल है।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने अपने गृह जिले शिवमोगा के हुनासोडु में स्टोन क्रेशर इकाई में विस्फोट में मजदूरों की मौत होने पर दुख व्यक्त किया है।

उन्होंने दुर्घटना की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं और कहा है कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि वह कल रात से ही वरिष्ठ अधिकारियों के संपर्क में है और बचाव एवं राहत कार्य के लिए टीमों को भेजा गया है।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया कि शोक संतप्त परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदना। विस्फोट में घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना। इस दौरान अधिकारियों ने मरने वालों की संख्या बढ़ने की आशंका जाहिर की है।

शिवमोगा के उपायुक्त केबी शिवकुमार ने ट्वीट किया कि ऐसी अफवाहें हैं कि कम से कम 10 से 15 लोगों की मौत हुई है। पुलिस को अपनी जांच पूरी करने दें।

विस्फोट की आवाज से ऐसा प्रतीत हुआ कि जैसे भूकंप आया हो। विस्फोट की आवाज पड़ोस के दावणगेरे, चिकमंगलुरु और उत्तर कन्नड़ जिलों में भी सुनाई दी। शिवमोगा में विस्फोट का अत्यधिक असर दिखाई दिया यहां कुछ घरों में दरारें, छत की टाइलें और खिड़की के शीशे टूट गये हैं।

जिला प्रभारी मंत्री के ईश्वरप्पा ने कहा कि विस्फोट के कारण का पता लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञ घटनास्थल पर पहुंच रहे हैं और नमूनों का परीक्षण के बाद स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।

पुलिस के अनुसार रेलवे खदान में पहुंची एक भरी हुई लॉरी में कम से कम 50 जिलेटिन की छड़ों में विस्फोट हुआ है। मृतकों के शव क्षत-विक्षत हो गए हैं।

मोदी ने कर्नाटक में 8 मजदूरों की मौत पर शोक व्यक्त किया