बीएस येद्दियुरप्पा कर्नाटक के मुख्यमंत्री रहेंगे या देना पडेगा इस्तीफा?

Karnataka Floor Test : Congress MLAs Reach Bengaluru
Karnataka Floor Test : Congress MLAs Reach Bengaluru

बेंगलूरू। कर्नाटक विधानसभा में आज बीएस येद्दियुरप्पा की भारतीय जनता पार्टी सरकार के शक्ति परीक्षण पर सभी राजनीतिक दलोें की नजरें हैं और इसके लिए पूरी तैयारियां की जा चुकी है। भाजपा के पास स्पष्ट बहुमत के लिए सात विधायकों की कमी है।

गौरतलब है कि शुक्रवार को सुप्रीमकोर्ट ने आदेश दिया था कि शक्ति परीक्षण शनिवार को कराया जाए और इसके बाद विधानसभा का एक दिन का विशेष सत्र बुलाया गया था।

भाजपा की कर्नाटक इकाई ने एक टवीट् कर कहा कि हम सदन में बहुमत साबित करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं और हमारे पास जरूरी आंकडों से अधिक विधायकों का समर्थन है और जिन लाेगों को हमारे शक्ति परीक्षण को लेकर संदेह है उनके लिए हमारे पास एक ही संदेश है कि देखो और इंतजार करो।

इस बीच कांग्रेस और जनता दल(सेक्युलर) ने कहा है कि उनके विधायक उनके साथ ही हैं और कोई भी विरोधी खेमें में नहीं जाएगा।

कांग्रेस का कहना है कि सुप्रीमकोर्ट के निर्देश पर कर्नाटक विधानसभा में अाज होने वाले शक्ति परीक्षण में भारतीय जनता पार्टी को अपनी हार निश्चित नजर आ रही है इसलिए वह बौखलाई हुई है

राज्य भाजपा की महासचिव शोभा करंदलाजे ने कल कहा था कि सुप्रीमकोर्ट ने शनिवार को चार बजे सदन में बहुमत सिद्ध करने का आदेश दिया है। भाजपा इसका स्वागत करती है और उसे पूरा विश्वास है कि भाजपा के विधायकों और पार्टी को समर्थन देने वालों के साथ बहुमत सिद्ध कर दिया जाएगा।

इस सवाल के जवाब कि भाजपा कैसे बहुमत सिद्ध करेगी, भाजपा नेता ने कहा कि पहले ही कईं विधायक हमारे संपर्क में हैं, भाजपा को 120 से अधिक विधायक समर्थन कर रहे हैं और सदन में बहुमत सिद्ध करने में कोई दिक्कत नहीं आएगी।

गाैरतलब है कि कर्नाटक विधानसभा के 15 मई को आए नतीजों में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला। राज्यपाल वजूभाई वाला ने 104 विधायकों वाले सबसे बड़े दल भाजपा के नेता बीएस येद्दियुरप्पा को सरकार बनाने का न्यौता और 15 दिन के भीतर सदन में बहुमत सिद्ध करने को कहा था।

राज्यपाल के इस फैसले के खिलाफ कांग्रेस,जनता दल (सेक्युलर) और अन्य ने उच्चतम न्यायालय में अपील की थी और इस मामले में न्यायालय ने मुख्यमंत्री को आज शाम चार बजे सदन में बहुमत सिद्ध करने का आदेश दिया था।

उधर, येदियुरप्पा ने विश्वास जताया है कि वह सदन में विश्वास मत सिद्ध कर देंगे। येदियुरप्पा ने उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद कहा था कि कल सदन में शक्ति परीक्षण में बहुमत सिद्ध कर देंगे।

येद्दियुरप्पा आज साबित करेंगे बहुमत, बोपैया बने प्रोटेम स्पीकर

कर्नाटक विधानसभा में शनिवार चार बजे होगा शक्ति परीक्षण

कहीं बिक न जाएं! लक्जरी बसों से हैदराबाद लाए गए विधायक

दिग्विजय सिंह का दावा, कर्नाटक में कांग्रेस नहीं बल्कि बीजेपी के विधायक टूटेंगे