मैसुरु में वन संरक्षक मणिकंदन को जंगली हाथी ने कुचला

Director of the Nagarahole Tiger Project Manikantan
Director of the Nagarahole Tiger Project Manikantan

मैसुरु। कर्नाटक के मैसुरु जिले के डीबी कुप्पे वन क्षेत्र में एक जंगली हाथी ने वन संरक्षक और नागरहोल टाइगर रिजर्व के निदेशक एस. मणिकंदन को कुचल कर मार डाला। यह दुखद हादसा शनिवार को विश्व वन्यजीव दिवस वाले दिन हुआ।

भारतीय वन सेवा के अधिकारी 46 वर्षीय मणिकंदन जंगल में लगी आग के बाद वनस्पति को पहुंची क्षति का आकलन करने के लिए जंगल के दौरे पर थे। काबिनी बांध के नजदीक पहुंचने पर उन पर एक उन्मत्त जंगली हाथी ने हमला कर दिया। वनकर्मियों ने हाथी को वहां से हटाने के लिए भरसक प्रयास किया लेकिन हाथी ने उनको दबोच कर कुचल डाला।

मणिकंदन को एचडी कोट सरकारी अस्पताल में ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। उनके शव को पोस्टमॉर्टम के लिए के आर अस्पताल ले जाया गया।

चामराजनगर से सांसद आर. ध्रुवनारायण और अन्य वन अधिकारियों ने एचडी कोट अस्पताल में जाकर शहीद वन अधिकारी को श्रद्धांजलि दी। वह तमिलनाडु के थेनी जिले के निवासी थे और वन संरक्षक और नागरहोल टाइगर रिजर्व के निदेशक के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे थे।