वाराणसी में होलिका दहन पर आतिशबाजी, रंगों में सराबोर भोले की नगरी

वाराणसी। उत्तर प्रदेश की प्रचीन धार्मिक नगरी एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में होली हर्षोल्लास के साथ मनाई जा रही है। होलिका दहन के साथ यहां आतिशबाजी भी हुई।

होलिका दहन के साथ-साथ पटाखे और आतिशबाजी का दौर गुरुवार देर रात तक चलता रहा। शुक्रवार सुबह भी बहुत से लोग आतिशबाजी करके जश्न मनाते नजर आए। रंग-अबीर और पिचकारी की दुकानों पर पटाखों की भी बिक्री हुई। जिले में एक हजार से अधिक स्थानों पर होलिका दहन की गई।

ऐतिहासिक दशाश्वमेघ घाट, असी घाट सहित अनेक स्थानों पर सुबह से ही लोग एक दूसरे को रंग-अबीर के अलावा कीचड़ लगाकर होली खेलते दिखे। श्रद्धालु जगह-जगह भांग का दूध पीकर “हर-हर महादेव, बम-बम भोले” के जयकारे लगाते नजर आए। होली पर आधारित भोजपुरी एवं हिंदी गीतों पर लोग डांस करके रंगों का त्यौहार मना रहे हैं।

गंगा घाटों पर स्नान करने के लिए बहुत से देशी-विदेशी सैलानी सुबह चार बजे से पहुंचने लगे थे। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आर के भारद्वाज ने बताया कि होली के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए हैं। संवेदनशील स्थानों पर पुलिसकर्मियों के अलावा केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल के जवान तैनात किए गए हैं।

काशी विश्वनाथ मंदिर, संकट मोचन मंदिर, लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, रेलवे स्टेशनों एवं बस अड्डा सहित तमाम सार्वजनिक स्थानों की विशेष सुरक्षा निगरानी की जा रही है। उन्होंने बताया कि संवेदनशील क्षेत्रों में पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात हैं। पीएसी की 25 एवं आरपीएफ की दो कंपनियां तैनात की गई हैं।