बगावत-ए-कश्मीर पर नया इतिहास रचा है… कैद थी जनता अब कातिलों को मिली सजा है

*बगावत-ए-कश्मीर*

बगावत-ए-कश्मीर पर नया इतिहास रचा है ,,
कैद थी जनता अब कातिलों को मिली सजा है ।।

आज तक आतंक ने देश पर फन फैलाया था ,,
चाणक्यनीति से सम्राट ने कश्मीर जिताया है ।।

गद्दारों की हार से संसार ने सबक सीखा है ,,
युगो युगो से भारत ने परचम फैलाएं रखा है ।।

धर्म संस्कारों का जिसने मीठा स्वाद चखा है ,,
आज अपने सम्मान को फिर से जिसने जीता है ।।

भारत की पुण्य धरती को स्वर्ग बनाए रखा है ,,
देश की अखंडता को दिल में जगाएं रखा है ।।

नया सूरज आज नये सपनों को लेकर आया है ,,
जन गन मन का गीत कश्मीर ने गुनगुनाया है ।।

रुद्राभिषेक हुए केसरतिलक भाल पर सजाया है,,
विषदंत नागों ने शिव के आगे शीश झुकाया है।।

बगावत-ए-कशमीर पर आतंकी पहरा हटाया है ,,
खुशहाली का तिरंगा आज फिर से लहराया है ।।
********************************************************************

नीलम जैन
बाड़मेर राजस्थान