बिहार में कटिहार नगर निगम के मेयर की गोली मारकर हत्या

कटिहार। बिहार में कटिहार जिले के नगर थाना क्षेत्र में अपराधियों ने गुरूवार की रात नगर निगम के मेयर की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि संतोषी मंदिर के समीप अपराधियों ने कटिहार नगर निगम के मेयर शिवराज पासवान को गोली मारकर घायल कर दिया।

घायल शिवराज पासवान को इलाज के लिए कटिहार मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृतक घोषित कर दिया। सूत्रों ने बताया कि हत्या के कारणों का तत्काल पता नहीं चल सका है। पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाल रही है। दूर-दराज के इलाकों में नाकेबंदी कर दी गई।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक मेयर शिवराज पासवान उर्फ शिवा पासवान देर शाम एक मामले की पंचायती कर बाइक से घर लौट रहे थे। नगर थाना क्षेत्र के संतोषी चौक रेलवे गेट के समीप देर रात पहले से घात लगाए अपराधियों ने शिवराज पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी।

सीने में तीन गोली लगने से शिवराज गम्भीर रूप से जख्मी हो गए। वारदात के बाद अपराधी बाइक से फरार हो गए। बदमाशों की संख्या तीन बताई जा रही है। गंभीर हालत में मेयर को मेडिकल कालेज लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

इस वारदात से भड़के लोगों ने हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शव को नगर थाना में रख दिया। हालात को नियंत्रण में रखने के लिए भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। मेयर जमीन की खरीद बिक्री के कारोबार से भी जुड़े थे। पुलिस इस एंगल से भी जांच कर रही है। निवर्तमान मेयर विजय सिंह के बरारी से विधायक निर्वाचित होने के बाद शिवराज पासवान नगर निगम के मेयर निर्वाचित हुए थे।

चिराग पासवान ने की दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग

इस मामले में जमुई से एलजेपी सांसद चिराग पासवान ने ट्वीट कर परिजनों के प्रति शोक व्यक्त की और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि कटिहार के मेयर शिवराज पासवान की हत्या का समाचार सुनकर स्तब्ध हूं, 17 जुलाई 2021 को आशीर्वाद यात्रा के दौरान उनसे कटिहार में मुलाकात हुई थी। वह बेहद ही सरल स्वभाव के व्यक्ति थे। मैं ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं। उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा कि दुख की इस घड़ी में मैं उनके परिवार के साथ खड़ा हूं। यह घटना सुशासन के दावों की पोल खोलती है। प्रशासन से यह मांग करता हूं कि जल्द से जल्द दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए।