खालेदा जिया के निर्वासित बेटे तारिक रहमान बीएनपी प्रमुख नियुक्त

Khaleda Zia's exiled son Tarique Rahman named BNP chief
Khaleda Zia’s exiled son Tarique Rahman named BNP chief

ढाका। बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी के उपाध्यक्ष तारिक रहमान ने अपनी मां और पूर्व प्रधानमंत्री खालेदा जिया को पांच साल की सजा सुनाए जाने के बाद पार्टी के अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल ली है। पार्टी के एक पदाधिकारी ने यह जानकारी दी।

विपक्षी नेता खालेदा जिया के निर्वासित बेटे तारिक रहमान को अध्यक्ष बनाने का फैसला गुरुवार को खालेदा के एक अनाथालय ट्रस्ट के धन के दुरुपयोग के आरोप में जेल जाने के बाद किया गया।

बीएनपी के प्रवक्ता असदुज्जमान रिपोन ने समाचार एजेंसी एफे को बताया कि पार्टी संविधान के मुताबिक रहमान कार्यकारी अध्यक्ष बन गए हैं। पार्टी संविधान के मुताबिक वह अपने कर्तव्यों का निर्वहन करेंगे।

रहमान 2008 से ब्रिटेन में निर्वासन में रह रहे हैं। उन्हें भी इसी मामले में अदालत ने 10 साल की जेल की सजा सुनाई है। जिया के बेटे को 2003-07 के बीच 25 लाख डॉलर के धनशोधन के आरोपों में साल 2016 में सात साल की सजा सुनाई गई थी। बीएनपी के प्रवक्ता रिपोन ने कहा कि रहमान के निर्वासन से उनके पार्टी अध्यक्ष बनने पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को पता है कि वह किस परिस्थिति में ब्रिटेन में रह रहे हैं, इसलिए यह कोई समस्या नहीं होगी। वह स्थायी समिति के सदस्यों और अन्य नेताओं के साथ परामर्श करते हुए पार्टी चलाएंगे।

इससे पहले, पूर्व प्रधानमंत्री के परिवार के सदस्य उनसे जेल में मिले थे। डेली स्टार की रिपोर्ट के मुताबिक, खालेदा जिया की बहन सेलिमा इस्लाम, भाई शमीम इस्कंदर, उनकी पत्नी कनीज फातेमा और पुत्र अविक इस्कंदर ने खालिदा जिया के साथ 40 मिनट तक मुलाकात की।

खालेदा जिया ने दो बार (1991-96 और 2001-06 के बीच) बांग्लादेशी सरकार का नेतृत्व किया है। उन्हें भ्रष्टाचार, हिंसा और राजद्रोह के 13 मामलों में नामित किया गया है। बीएनपी के अनुसार सैकड़ों पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं को भी ऐसे ही आरोपों का सामना करना पड़ रहा है।