खरगोन में उपद्रव फैलाने के मास्टरमाइंड समेत तीन अरेस्ट

खरगोन। मध्यप्रदेश के खरगोन जिला मुख्यालय पर रामनवमी के जुलूस पर पथराव के बाद हिंसा भड़कने के मामले में एक मास्टरमाइंड समेत तीन इनामी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

खरगोन में पदस्थ आईपीएस अधिकारी अंकित जायसवाल ने बताया कि मियांमन मोहल्ला क्षेत्र के अफजल अली उर्फ अफजल डिजायर को इंदौर क्षेत्र, इकबाल बाली को जावरा और कैफ़ को कसरावद क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है। तीनों को न्यायालय के समक्ष पेश करने के उपरांत जेल भेज दिया गया है।

उन्होंने बताया कि 37 वर्षीय अफजल डिजायर ने 10 अप्रैल को हिंसा फैलने के दौरान खरगोन जिला मुख्यालय के 4 इलाकों में पत्थरबाजों को उपद्रव करने के लिए भेजा था। इस दौरान उसके फोन लगातार बज रहे थे और वह उपद्रवियों को निर्देश भी दे रहा था। वह फोन पर उपद्रवियों को अन्य क्षेत्रों में पहुंचने के रास्ते भी बता रहा था। इसके अलावा उसके अपने क्षेत्र में हिंसा के लिए उकसाने में भी मुख्य भूमिका पाई गई है।

उन्होंने बताया पहले अफजल केरोसिन बेचने का काम करता था और उसके विरुद्ध आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत और पूर्व में दंगे भड़काने के मामले भी दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि एक अन्य आरोपी इकबाल बाली ने आनंद नगर क्षेत्र में उपद्रव भड़काने में बड़ी भूमिका अदा की थी। इस क्षेत्र में भी जमकर पत्थर और पेट्रोल पंप का उपयोग हुआ था। इकबाल बाली के विरुद्ध पूर्व में भी दंगे में शामिल होने समेत चार प्रकरण दर्ज हैं।

उन्होंने कहा कि एक अन्य इनामी आरोपी कैफ को भी गिरफ्तार किया गया है। उसके विरुद्ध दंगों में शामिल होने समेत 2 प्रकरण दर्ज हैं। इसके साथ ही अभी तक 72 मामलों में 182 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है, जिसमें पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ चौधरी पर गोली चला कर उन्हें घायल करने वाला मोहसिन उर्फ वसीम भी शामिल है।

उन्होंने बताया कि बिच्छू गैंग संचालित करने वाला एक अन्य आरोपी समीउल्लाह और इरफान की भी शीघ्र ही गिरफ्तारी की जाएगी।