मीनू मनोविकास मन्दिर स्कूल में बच्चों ने ‘KILBIL’ मेले में की खूब मस्ती

KILBIL fair in Meenu Manovikas Mandir School at Chachiyawas in Ajmer

अजमेर। मीनू मनोविकास मन्दिर सम्मिलित स्कूल के चाचियावास स्थित परिसर में शनिवार को बच्चों के लिए ‘KILBIL’ मेले का आयोजन किया गया। इसमें बच्चों खूब मस्ती की। बच्चे हिन्दी व मारवाड़ी गानों पर नृत्य कर झूम उठे।

संस्था निदेशक राकेश कुमार कौशिक ने बताया कि बाल मेले में मीनू स्कूल, संजय इन्क्लूसिव स्कूल ब्यावर, उम्मीद स्कूल पुष्कर, दिशा ईआईसी स्पर्श, सीबीआर कार्यक्रम, मेयो गर्ल्स कॉलेज, टर्निंग प्वाईन्ट पब्लिक स्कूल, संस्कृति द स्कूल, राजकीय नर्सिंग काॅलेज, डीएवी काॅलेज, देहली पब्लिक वर्ल्ड स्कूल, राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल, गार्गी पब्लिक स्कूल बबायचा आदि से स्कूलों के लगभग 1000 दिव्यांग व सामान्य बच्चों ने उत्साह के साथ मेले में शिरकत की। बच्चे हिन्दी व मारवाड़ी गानों पर नृत्य कर झूम उठे।

कलेक्टर आरती डोगरा ने किया उद्घाटन

”किलबिल“ सम्मिलित बाल मेले का उद्घाटन जिला कलेक्टर आरती डोगरा के द्वारा मुख्य आतिथ्य में किया गया। बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश महामंत्री मुंसिफ अलीखान, समाजसेवी सोमरत्न आर्य, सामाजिक न्याय व अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक जय प्रकाश चारण, कीर्ती पाठक, सर्वेश्वर शास्त्री, डाॅ आनन्द अग्रवाल, डा राकेश सारस्वत आदि ने विशिष्ठ अतिथि के रूप में उपस्थित होकर बच्चों का उत्साहवर्धन किया।

संस्था के मुख्य कार्यकारी क्षमा आर कौशिक ने सभी का स्वागत कर ”किलबिल“ बाल मेले के आयोजन व उद्देश्य के बारे में जानकारी देते हुए बताया की इस तरह के आयोजनों से मनोरंजन के साथ-साथ विशेष बच्चों को सामान्य बच्चों के बराबर मंच प्रदान करके विकलांगता के भेद को मिटाते हुए सम्मिलित शिक्षा के माध्यम से उनकी छिपी हुई प्रतिभाओं को बाहर लाया जा सकता है।

कलेक्टर आरती डोगरा व अन्य विषिष्ट अतिथियों ने मेले में लगाई गई संस्थागत प्रदर्शनी व प्रतियोगिता स्टालों का अवलोकन कर विशेष बच्चों के लिए आयोजित की जाने वाली गतिविधियों की विस्तृत जानकारी ली। जिला कलेक्टर ने स्वयं किलबिल की गतिविधियों में भाग लेकर दिव्यांगों के जीवन में आने वाली चुनौतियों को महसूस किया।

प्रतियोगिताओं में रोचकता से लिया भाग

मेले के दौरान बच्चों ने विभिन्न खेल गतिविधियों व मनोरंजक प्रतियोगिताओं में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। बच्चों के लिए एक मिनट गतिविधि एक टांग से चलकर अधिक वस्तुएं उठाना, रिंग फेकना, सिक्के जमाना, लक्की नम्बर बताना, लिप रीडिंग करना, आॅख बांधकर वस्तुओं की पहचान करना, मेमोरी गेम, जादुई गेम, एक हाथ से गुब्बारा फुलाना, अपना घर ढूंढों, घन्टी बजाए बिना रास्ता पार करना आदि आकर्षण का केन्द्र रही।

फूड जोन में लिए चटखारे

”किलबिल“ के फूड जोन में बच्चों के साथ-साथ बड़ों ने भी चाट, कचैरी-समौसे, दही पपड़ी पेस्ट्री, पेटीज, जलेबी, लस्सी, रबड़ी आदि व्यंजनों का लुफ्त उठाया।

संस्थागत प्रदर्शनी से ली जानकारी

मेला स्थल पर लगाई गई प्रदर्शनी में बच्चों के साथ अभिभावकों व सभी अतिथियों ने सम्मिलित शिक्षा, शीघ्र हस्तक्षेण, चुनौतिपूर्ण-चुनौतियाॅ, सागर काॅलेज विशेष शिक्षा बीएड एवं डिप्लोमा प्रशिक्षण, चाइल्ड लाइन व बाल अधिकार, आजीविका संवर्धन, स्वास्थ्य जागरूकता, आदि कार्यो के बारे में फोटो, पोस्टर व बेनर आदि के माध्यम से संस्था के विभिन्न कार्यक्रमों व गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की।

इनामी ड्राॅ के प्रति रही विशेष उत्सुकता

किलबिल के समापन समारोह में विषिष्ठ अतिथियों के द्वारा इनामी ड्रा निकाला गया जो सभी बच्चों व अन्य लोगों के लिए विषेष आकर्षण का केन्द्र रहा। कुल 303 लोगों को ड्राॅ में लेपटाॅप, एलईडी टीवी, मोबाइल व अन्य सांत्वना पुरस्कार मिले।

किलबिल के समापन समारोह में विशिष्ठ अतिथि के रूप में सहायक आयकर आयुक्त भाविका माल, अजीत अग्रवाल, एसएन गगरानी, नीलमणी गगरानी, विजय गुप्ता, डाॅ पंकज तोषनीवाल, मंजू तोषनीवाल, पूजा गुप्ता, संजय गोखरू, आनन्द गौड़, पल्लवी अग्रवाल, राकेश सेठी, संजीव जैन आदि ने शिरकत कर बच्चों का उत्साह वर्धन किया।

मेले के दौरान जैन सोशियल ग्रुप क्लासिक के मुकेश कर्नावट, प्रदीप कोठारी, विपिन जैन, द्वारा उम्मीद स्कूल पुष्कर के बच्चों के लिए फिजियोथेरेपी उपकरण भेंट किए गए। संस्था की मुख्यकार्यकारी क्षमा आर. कौशिक ने मेले में आए सभी स्कूलों के बच्चों, अध्यापकों के साथ अभिभावकों व मेले में सहयोग प्रदान करने वाले सभी सहयोगियों का आभार व्यक्त किया।

किलबिल के आयोजन में नेमीचन्द वैष्णव, भगवान सहाय शर्मा, तरूण शर्मा, अनुराग सक्सेना, नानूलाल प्रजापति, पद्मा चैहान, सत्तार मोहम्मद, रणसिंह चीता, लक्ष्मण सिंह, ईश्वर शर्मा, देवकरण कुमावत, भंवर सिंह गौड़, सुरेन्द्र गुरू, सुनिल दत्त जोशी, शम्भू प्रकाश एवं सागर काॅलेज के प्रशिक्षणार्थियों आदि का सहयोग रहा। कार्यक्रम का संचालन नानूलाल प्रजापति ने किया।

इनका संस्थाओं का रहा विशेष सहयोग

किलबिल में मित्तल काॅर्पोरेट कन्सलटेन्सी प्रालि (मित्तल चेम्बर्स), यूनाइटेड अजमेर, लोक कला संस्थान, पृथ्वीराज फाउण्डेशन, जैन सोशियल ग्रुप, जैन सोशियल ग्रुप क्लासिक, चंचल देवी बालचन्द्र चेरिटेबल ट्रस्ट, दिशा आरोग्य धाम, कुमावत समाज महिला मण्डल, कैलाश मार्बल रूपनगढ़ एवं सुराणा मार्बल किशनगढ़, लिटिल स्माइल ग्रुप, जस्ट डू इट ग्रुप अजमेर आदि का विशेष सहयोग रहा।