दिनेश कार्तिक बने कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान

Dinesh Karthik as captain
Kolkata Knight Riders announce Dinesh Karthik as captain for 2018 IPL season

कोलकाता। इंडियन प्रीमियर लीग में दो बार विजेता रह चुकी काेलकाता नाइट राइडर्स (केकेअार) ने लीग के 11वें संस्करण के लिए विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक को नया कप्तान बनाए जाने की रविवार को घाेषणा की।

32 साल के कार्तिक को काेलकाता ने जनवरी में हुई नीलामी में 7.4 करोड़ रुपए की राशि में खरीदा था और वह टीम के कप्तान बनने की दौड़ में सबसे आगे चल रहे थे। कप्तान की रेस में एक अन्य विकेटकीपर रोबिन उथप्पा भी शामिल थे जिन्हें टीम का उपकप्तान बनाया गया है।

कार्तिक आईपीएल के इतिहास में कोलकाता के चौथे कप्तान होंगे। उनसे पहले सौरभ गांगुली, ब्रैडन मैकुलम और गौतम गंभीर टीम की कमान संभाल चुके हैं। गंभीर सात वर्षाें तक कोलकाता के कप्तान रहे।

गंभीर ने अपनी कप्तानी में कोलकाता को दो बार चैंपियन बनाया लेकिन इस बार उन्हें रिटेन नहीं किया गया और फिर दिल्ली डेययरडेविल्स ने गंभीर को अपनी टीम में खरीद लिया।

भारत के लिए 23 टेस्ट, 79 वनडे और 14 ट्वंटी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके कार्तिक आईपीएल में 2008 के शुरुआती सत्र के बाद से अब तक पांच टीमों के लिए खेल चुके हैं।

कोलकाता से जुड़ने से पहले वह दिल्ली डेयरडेविल्स, किंग्स इलेवन पंजाब, मुंबई इंडियंस, रायल चैलैंजर्स बेंगलुरु और गुजरात लायंस की अाेर से खेल चुके थे। इसके अलावा वह अपनी घरेलू टीम तमिलनाडु की भी कमान संभाल चुके हैं।

कार्तिक ने अपनी कप्तानी में तमिलनाडु को 2009-10 में विजारे हजारे ट्राफी का खिताब दिलाया था। इसके अलावा वह इंडिया रेड की ओर से भी कप्तानी कर चुके हैं जिसने कार्तिक की कप्तानी में ही पिछले साल दलीप ट्राफी का खिताब जीता था। ट्वंटी-20 प्रारुप में तमिलनाडु की कप्तानी के रूप में उनका जीत का रिकॉर्ड 72 प्रतिशत रहा है।

कोलकाता टीम की नए कप्तान बनाए जाने के बाद कार्तिक ने कहा कि आईपीएल की सबसे सफल टीम कोलकाता का नेतृत्व करना मेरे लिए सम्मान की बात है और मैं इस नई चुनौती के लिए तैयार हूं। मैं उस टीम का नेतृत्व करने के लिए बेहद उत्साहित हूं जिसमें अनुभव और युवाओं का मिश्रण है। करोड़ो लोगों की पंसद केकेआर के लिए मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दूंगा।

उपकप्तान बनाए गए उथप्पा वर्ष 2014 से ही केकेआर से जुड़े हुए हैं लेकिन इस बार उन्हें एक नई जिम्मेदारी सौंपी गई है। उथप्पा भारत के लिए 46 वनडे और 13 ट्वंटी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं। गंभीर, डीके के नाम से मशहूर कार्तिक और उथप्पा भारत की उस टीम का हिस्सा थे जिसने 2007 में पहला ट्वंटी-20 विश्वकप जीता था।

32 साल के उथप्पा ने कहा कि डीके और मैं अंडर-17 से ही एक दूसरे को जानते हैं। उनके साथ काम करने को लेकर मैं बहुत उत्साहित हूं। उथप्पा कोलकाता से जुड़ने से पहले मुंबई इंडियंस, पुणे वारियर्स और रायल चैलैंजर्स बेंगलुरु के लिए भी खेल चुके थे।

काेलकाता टीम के सहायक कोच साइमन कैटिच ने कहा कि कार्तिक पिछले 10 वर्षाें से आईपीएल से जुड़े हुए हैं। घरेलू टी-20 टूर्नामेंट में उनका शानदार रिकॉर्ड रहा है। कप्तान के रूप में उनका जीत का रिकॉर्ड 72 प्रतिशत है। मुझे उम्मीद है कि उनका अनुभव टीम के काम आएगा और वह इस बार अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देंगे।

कार्तिक ने पिछले साल आईपीएल में गुजरात लायंस की ओर से खेलते हुए 36.1 के औसत से 361 रन बनाए थे। आईपीएल के छठे संस्करण में उन्होंने मुंबई को चैंपियन बनाने में अहम योगदान दिया था और 510 रन बनाने के अलावा विकेट के पीछे 14 शिकार भी किए थे।

दो बार की चैंपियन कोलकाता लीग के 11वें संस्करण में आठ अप्रेल को कोलकाता में रॉयल चैलैंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ मुकाबले से अपने अभियान की शुरुआत करेगी।

भारत के लिए 23 टेस्ट, 79 वनडे और 14 ट्वंटी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके कार्तिक आईपीएल में 2008 के शुरुआती सत्र के बाद से अब तक पांच टीमों के लिए खेल चुके हैं।

कोलकाता से जुड़ने से पहले वह दिल्ली डेयरडेविल्स, किंग्स इलेवन पंजाब, मुंबई इंडियंस, रायल चैलैंजर्स बेंगलुरु और गुजरात लायंस की अाेर से खेल चुके थे। इसके अलावा वह अपनी घरेलू टीम तमिलनाडु की भी कमान संभाल चुके हैं।

कार्तिक ने अपनी कप्तानी में तमिलनाडु को 2009-10 में विजारे हजारे ट्राफी का खिताब दिलाया था। इसके अलावा वह इंडिया रेड की ओर से भी कप्तानी कर चुके हैं जिसने कार्तिक की कप्तानी में ही पिछले साल दलीप ट्राफी का खिताब जीता था। ट्वंटी-20 प्रारुप में तमिलनाडु की कप्तानी के रूप में उनका जीत का रिकॉर्ड 72 प्रतिशत रहा है।