श्रीनगर में कृष्णा ढाबे के मालिक के बेटे आकाश मेहरा का दम टूटा

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में इस माह के मध्य में आतंकवादियों के हमले के शिकार हुए मशहूर कृष्णा ढाबे के मालिक के पुत्र आकाश मेहरा ने आखिरकार जिंदगी और मौत से संघर्ष करने के बाद रविवार सुबह दम तोड़ दिया।

पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती के अलावा सभी राजनीतिक दलों के नेताओं, नागरिक संगठनों और आम जनता ने आकाश की मौत पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि आकाश का अंतिम संस्कार जम्मू के जैनपोरा में किया जाएगा। आकाश को 17 फरवरी शाम को उनकी दुकान के समीप डलगेट सोनावर क्षेत्र में आतंकवादियों ने उस समय गोलियां मारी थी जब कश्मीर घाटी में जमीनी हालात का जायजा लेने के लिए यहां एक अंतरराष्ट्रीय प्रतिनिधि मंडल दौरे पर था।

आतंकवादियों ने आकाश को तीन गोलियां मारी थी और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां डॉक्टरों ने उसका आपरेशन भी किया था। अस्पताल सूत्रों ने बताया कि आकाश की सुबह अस्पताल में मौत हो गई और परिजन उसके शव को लेकर जम्मू रवाना हो गए थे।

उमर अब्दुल्ला ने एक टवीट कर कहा कि कृष्णा ढाबे के मालिक के पुत्र आकाश के बारे में यह दुखद जानकारी मिलने के काफी धक्का लगा है और वह उस हमले में जिंदगी तथा मौत की जंग हार गया है। उसकी आत्मा को शांति मिले और उसके परिजनों को ईश्वर यह गहन दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

मुफ्ती ने अपने शोक संदेश में कहा कि आकाश के मौत की जानकारी मिलने से उन्हें काफी दुख पहुंचा है, ईश्वर उसकी आत्मा को शांति प्रदान करें और मेरी संवेदनाएं परिवार के साथ है।

इस बीच कश्मीर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक ने इससे पहले बताया था कि जिन आतंकवादियों ने इस घटना को अंजाम दिया था वे हाल ही आतंकवादियों से साथ जुड़े थे और उन तीनों को ही गिरफ्तार कर लिया गया है।

आकाश दूसरा गैर कश्मीरी युवक था जिसे आतंकवादियों ने निशाना बनाया है। इससे पहले एक स्वर्णकार सतपाल सिंह की 31 दिसंबर को सराई बाला में उनकी दुकान पर आतंकवादियों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी।