ब्रिटेन के एडमंड ने नोवाक जाेकोविच को हराया, राफेल नडाल जीते

Kyle Edmund defeats Novak Djokovic in Madrid to claim biggest scalp of his career

मैड्रिड। ब्रिटेन के काइल एडमंड ने अपने करियर की सबसे बड़ी जीत दर्ज करते हुए विश्व के पूर्व नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच को मैड्रिड ओपन टेनिस टूर्नामेंट के दूसरे राउंड में तीन सेटों में 6-3 2-6 6-3 से उलटफेर का शिकार बना दिया। हालांकि माैजूदा नंबर एक खिलाड़ी स्पेन के राफेल नडाल ने जीत के साथ तीसरे दौर में प्रवेश कर लिया है।

दो बार के चैंपियन जोकोविच ने इस वर्ष अभी तक एक भी निर्णायक सेट नहीं जीता है और वह इससे पहले मार्टिन क्लिज़ान, डॉमिनिक थिएम और तारो डेनियल से निर्णायक सेट हारे हैं और इसी सूची में अब एडमंड का नाम भी जुड़ गया है।

एडमंड ने 30 वर्षीय सर्बियाई खिलाड़ी की निर्णायक सेट के आठवें गेम में सर्विस ब्रेक करते हुए इस वर्ष अपनी 14वीं जीत दर्ज कर ली। विश्व के 22वें नंबर के इंग्लिश खिलाड़ी ने जीत के बाद कहा कि नोवाक को हराना बहुत अच्छा अनुभव रहा। अब समय आ गया है जब हम इन खिलाड़ियों को हरा सकते हैं।

ब्रिटिश खिलाड़ी का तीसरे दौर में आठवीं सीड बेल्जियम के डेविड गोफिन के साथ मुकाबला होगा। पिछले काफी समय से कोहनी की चोट से जुझ रहे जोकोविच गत वर्ष विंबलडन के बाद से किसी टूर्नामेंट के अंतिम आठ में नहीं पहुंचे हैं। वह गत माह मोंटे कार्लाे और बार्सिलोना में भी जल्द बाहर हो गये थे।

12 बार के ग्रैंड स्लेम चैंपियन ने कहा कि मेरे साथ कई चीजें ठीक नहीं चल रही हैं। लेकिन मुझे अपने खेल पर काम करना होगा और उम्मीद करनी होगी कि मेरा खेल आने वाले दिनों में मजबूत होगा।

दूसरी ओर विश्व के नंबर एक खिलाड़ी नडाल ने क्ले कोर्ट पर लगातार 20वीं मैच जीत दर्ज करते हुये मैड्रिड ओपन में छठे खिताब के लिये अपना दावा और मजबूत कर लिया। स्पेनिश खिलाड़ी ने फ्रांस के गाएल मोंफिल्स को 6-3 6-1 से हराया।

31 साल के नडाल को ओपनिंग राउंड में बाई मिली थी। उन्होंने मैच में 17 विनर्स लगाये और दूसरे सेट में 13 सर्विस प्वांइट में से एक ही अंक गंवाया और जीत अपने नाम कर ली। स्पेनिश खिलाड़ी ने इसी के साथ क्ले कोर्ट पर लगातार 48 सेट जीतने की उपलब्धि भी अपने नाम कर ली है। वह अब अमरीका के जॉन मैकेनरो के वर्ष 1984 में क्ले पर लगातार 49 सेट जीतने के रिकार्ड से केवल एक सेट ही दूर हैं।

विश्व के सातवें नंबर के खिलाड़ी डॉमिनिक थिएम और छठी सीड केविन एंडरसन ने भी अंतिम-16 में जगह बना ली। लेकिन घरेलू खिलाड़ी फेलिसियानो लोपेज़ को अर्जेंटीना के डिएगो श्वार्ट्ज़मैन ने हराकर बाहर कर दिया जो अगले वर्ष टूर्नामेंट के निदेशक नियुक्त किए जाएंगे।