विदेशी मां-बेटे की हत्या, सीसीटीवी खंगाल रही दिल्ली पुलिस

नई दिल्ली। किर्गिस्तान की गर्भवती महिला और उसके 13 साल के बेटे की हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए दिल्ली पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि मां-बेटे के शव मंगलवार सुबह उसके उज्बेकिस्तान की एक महिला मित्र के कालकाजी क्षेत्र के फ्लैट से बरामद किए गए थे।

दक्षिण-पूर्वी दिल्ली पुलिस इस मामले में पुलिस महिला के पति विनय चौहान एवं अन्य मित्रों के बयानों के साथ-साथ सीसीटीवी फुटेज का विश्लेषण कर हत्यारों का पता लगा रही है।

जांच के दौरान महिला के पति विनय ने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी मिस्कल जुमाबेवा (28) गर्भवती थी। सोमवार रात उसने पेट दर्द की शिकायत करते हुए अस्पताल ले जाने को कहा था। इसी बात लेकर दोनों के बीच झगड़ा हो गया था।

इसके बाद वह ग्रेटर कैलाश-दो में अपने एक मित्र के घर चला गया था। वहीं उसकी पत्नी ने अपनी उज्बेकिस्तानी मित्र को फोन कर बुलाया और उसके साथ अस्पताल गई। वह रात में ही लौटकर उज्बेकिस्तानी महिला मित्र मतुलबा माडुसमोनोव के घर आ गई।

मंगलवार सुबह मां-बेटे के शव अलग एक कमरे में खून से लथपथ हालत में बिस्तर पर पड़े मिले। मौके पर मौके से एक चाकू बरामद किया गया है और शवों पर घाव के कई निशान पाए गए हैं।

सूत्रों ने बताया कि पुलिस को विनय समेत दंपती के अन्य मित्रों के बयान संदिग्ध लग रहे हैं। इनके बयानों से कई सवाल खड़े हुए हैं, जिनकी पड़ताल की जा रही है। बताया जाता है कि जुमाबेवा और विनय ने करीब ढाई साल पहले प्रेम विवाह किया था। वे ग्रेटर कैलाश-दो में किराए के एक मकान में रह रहे थे।