लैब टेक्नीशियन व रेडियोग्राफरों ने लंबित मांगों को लेकर CM के नाम सौंपा ज्ञापन

अजमेर। चिकित्सा विभाग में लैब टेक्नीशियन व रेडियोग्राफर संवर्गों को ग्रेड पे सुधार एवं अन्य मांगों को लेकर राजस्थान लैब टेक्नीशियन व रेडियोग्राफर संयक्त कर्मचारी संघ ने सोमवार को अजमेर कलेक्टर के जरिए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन भेजा।

संघ के जिलाध्यक्ष रामकिशोर मीणा के नेतृत्व में कर्मचारियों ने एडीएम सिटी को सोमवार को दिए गए ज्ञापन में बताया कि लैब टेक्नीशियन व रेडियोग्राफर संवर्ग को प्रथम नियुक्ति पर पे बैंड 9300—34800 ग्रेड पे 4200 (LII) किया जाए। लैब टेक्नीशियन व रेडियोग्राफर कोरोना वारियर्स के रूप में अग्रिम पंक्ति में लडकर कोराना 19 से मुकाबले की सबसे महत्वपूर्ण कडी सैंपलिंग, आरटीपीसीआर टेस्टिंग, चेस्ट एक्सरे एवं एचआरसीटी आदि संबंधित जांचों में खुद की जान की परवाह किए बिना संवर्गों में आधे स अधिक रिक्त पद होने के बावजूद प्रदेश की साढे सात करोड जनता को लगातार सेवाएं दे रहे हैं।

स्वास्थ्य विभाग एवं विभिन्न गठित समितियों द्वारा श्रम विभाग की अधिसूचना, पूर्व के उच्चीकृत वेतनमान, विभिन्न राज्यों (पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, हरियाणा,उत्तराखंड व अन्य केन्द्रय संस्थाओं व राज्यों में) द्वारा ग्रेड पे 4200 के आदेश, संवर्गो की शैक्षणिक व प्रशैक्षणिक योग्यता एवं ड्यूटी व रिसपोंसिबिलिटी को मद्देनजर रखते हुए ग्रेड पे सुधार का प्रस्ताव चिकित्सा व वित्तविभाग द्वारा अनुमोदित किया गया है। सरकार उपरोक्त अनुशंसा को अतिशीघ्र लागू करे।

वर्तमान में राजस्थान में समकक्ष संवर्गों (नर्सिंग एवं फार्मासिस्ट) को वेतनमान (ग्रेड पे 4200/3600) किया जा रहा है जबकि रेडियोग्राफर व लैब टेक्नीशियन संवर्ग को ग्रेड पे (2800/ L—8) दिया जा रहा है जो न्योचित नहीं है।

विशेष वेतन:लैब टेक्नीशियनव रेडियोग्राफर संवर्ग को खतरनाक विकिरण एवं लैब संक्रमण के क्षेत्र में कार्य करने के कारण मिलने वाला विशेष वेतन, संक्रमण एवं रेडिएशन को ध्यान में रखते हुए मूल वेतन का 25 प्रतिशत कियाजाए।

मैस भत्ता : लैब टेक्नीशियन व रेडियोग्राफर संवर्ग को मैस भत्ता 250 रुपए के स्थान पर नर्सिंग संवर्ग के समान 1250 रुपए प्रतिमाह किया जाए।

हार्ड ड्यूटी भत्ता : लैब टेक्नीशियन एवं रेडियोग्राफर संवर्ग को 1000 रुपए प्रतिमाह दिया जाए। राज्य सरकार द्वारा चिकित्सा विभाग के संवर्गों को (डाक्टर, नर्स, प्रसाविका व आयुर्वेद) राउंड द क्लाक ड्यूटी को दृष्टिगत रखते हुए वार्ड ड्यूटी भत्ता दिया जा रहा है जबकि लैब टेक्नीशियन व रेडियोग्राफर संवर्ग को इससे वंचित रखा गया है। जबकि इनके द्वारा भी राउंड द क्लाक ड्रयूटी की जा रही है।

लैब टेक्नीशियन एवं सहायक रेडियोग्राफर संवर्गों में केन्द्र सरकार के समान राजस्थान में भी चौथा पदोन्नति पद चीफ टेक्नीकल आफिसर का नया पदस्वीकृत किया जाए।

लैब टेक्नीशियन एवं रेडियोग्राफर की 12 जून 2020 को जारी की गई भर्ती प्रक्रिया को कोविड19 महामारी को देखते हुए अतिशीघ्र पूर्ण कराया जाए।

पदनाम परिवर्तन : चिकित्सा विभाग द्वारा लैब टेक्नीशियन व रेडियोग्राफर संवर्ग की पदनाम परिवर्तन की फाइल अनुमोदित कर राज्य सरकार को भेजी जा चुकी है। उपरोक्तानुसार अतिशीघ्र पदनाम परिवर्तन कर संवर्ग को अनुग्रहीत करें।