लसित मलिंगा ने फ्रेंचाइजी क्रिकेट से लिया संन्यास

मुंबई। श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसित मलिंगा अब फ्रेंचाइजी क्रिकेट नहीं खेलेंगे। उनकी आईपीएल टीम मुंबई इंडियंस ने यह जानकारी दी है। मलिंगा आईपीएल 2020 में नहीं खेले थे और मुंबई ने उन्हें आईपीएल 2021 सत्र के लिए रिटेन भी नहीं किया।

मलिंगा ने इस महीने की शुरुआत में मुंबई इंडियंस टीम प्रबंधन को आईपीएल 2021 के लिए उपलब्ध न रहने के बारे में सूचना दी थी और उन्हें टीम में न बनाए रखने के लिए भी कहा था। मलिंगा ने अपने बयान में कहा था कि परिवार के साथ चर्चा के बाद मुझे लगता है कि सभी फ्रेंचाइजी क्रिकेट से संन्यास लेने का यही सही समय है।

कोरोना महामारी के हालात और यात्रा पर प्रतिबंध से मेरे लिए अपनी व्यक्तिगत परिस्थितियों के कारण अगले साल फ्रेंचाइजी क्रिकेट में पूरी तरह भाग लेना मुश्किल बन गया है, इसलिए अभी यह निर्णय लेना सही है। हाल ही में मैंने मुंबई इंडियंस के प्रबंधन के साथ भी यही चर्चा की है, क्योंकि वे आगामी नीलामी के लिए तैयार हैं और वे बहुत सहायक और समझदार हैं।

उन्होंने कहा कि मैं अंबानी परिवार, मुंबई इंडियंस फ्रेंचाइजी के सभी सदस्यों और हमारे सभी प्रशंसकों को शानदार 12 वर्षों के लिए धन्यवाद देता हूं। मुंबई इंडियंस ने मुझे परिवार की तरह समझा। मैदान और मैदान के बाहर हर स्थिति में 100 प्रतिशत समर्थन दिया और हमेशा मैदान पर मुझे मेरा वास्तविक खेल खेलने के लिए साहस और आजादी दी। मैंने बहुत सारी यादें इकट्ठा की हैं, जिन्हें मैं संजो कर रखूंगा।

विश्व क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ फ्रेंचाइजी के लिए इतने लंबे समय तक खेलने के लिए बहुत आभारी हूं। मैं नीता अंबानी, कोच माहेला जयवर्धने, आकाश अंबानी और मुंबई इंडियंस परिवार को आगामी आईपीएल सत्र के लिए शुभकामनाएं देना चाहता हूं।

उल्लेखनीय है कि मलिंगा आईपीएल के दूसरे सत्र से ही मुंबई इंडियंस का हिस्सा थे, हालांकि वह 2018 और 2020 में आईपीएल नहीं खेले। उन्होंने 2018 में टीम के गेंदबाजी मेंटर के रूप में कार्य किया और इससे पहले मुंबई को आईपीएल का खिताब दिलाया।

मलिंगा दुनिया भर की अन्य टी-20 फ्रेंचाइजी का भी हिस्सा रहे। 295 मैचों में 390 विकेटों के साथ वह टी-20 फ्रेंचाइजी में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले प्रमुख खिलाड़ियों की सूची में शीर्ष खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो से मात्र एक पायदान पीछे हैं।