त्रिपोली में अराजकता के बीच जेल से 400 कैदी फरार

libya : 400 prisoners escaped from prison in Tripoli
libya : 400 prisoners escaped from prison in Tripoli

त्रिपोली। लीबिया की राजधानी त्रिपोली में विद्रोही गुटों में जारी हिंसक संघर्ष के बीच एक जेल से रविवार को 400 कैदी फरार हो गए।

एक न्यायिक अधिकारी ने सोशल मीडिया पर जारी न्यायिक पुलिस के वक्तव्य की पुष्टि करते हुए बताया कि कैदियों ने आइन ज़ारा जेल के दरवाजे को जबरन खोल दिया और जेल के गार्ड उन्हें रोकने में असमर्थ रहे।

आइन ज़ारा जेल में रखे गए अधिकतर क़ैदियों को लीबिया के पूर्व नेता मुअम्मर गद्दाफ़ी का समर्थक माना जाता है। वर्ष 2011 में गद्दाफ़ी की सरकार के ख़िलाफ़ हुए विद्रोह में इन्हें लोगों की हत्या करने का दोषी पाया गया था।

यह जेल दक्षिण त्रिपोली में स्थित है जिस इलाके में पिछले एक सप्ताह से प्रतिद्वंद्वी समूहों के बीच भारी लड़ाई जारी है।

लीबिया के संयुक्त राष्ट्र मिशन ने लड़ाई को समाप्त करने और सुरक्षा की स्थिति पर तत्काल वार्ता के लिए विभिन्न संबंधित पक्षों की मंगलवार दोपहर को एक बैठक भी बुलाई है।

राजधानी के दो सबसे बड़े सशस्त्र समूहों त्रिपोली रिवोल्यूशनरी ब्रिगेड और नवासी तथा त्रिपोली से 65 किलोमीटर दक्षिण पूर्व स्थित शहर तारहौना के सेवेंथ ब्रिगेड या कनीयात के बीच पिछले हफ्ते से भयंकर संघर्ष जारी है।

त्रिपोली में स्थित संयुक्त राष्ट्र समर्थित सरकार ने आपात स्थिति की गंभीरता को देखते हुए राजधानी में आपातकाल घोषित कर दिया है।

यद्यपि सरकार औपचारिक रूप से प्रभारी है, लेकिन वह राजधानी के उस हिस्से को नियंत्रित नहीं करती है जहां सशस्त्र गुट सक्रिय हैं और स्वायत्तता के साथ काम करते हैं जो अक्सर धन और ताकत से प्रेरित होते हैं।