भ्रष्टाचार के मामले में धृतराष्ट्र की भूमिका में सिरोही भाजपा नेता-लोढा

Former mla of sirohi sanyam lodha addressing congressman in sirohi

सबगुरु न्यूज़-सिरोही। पूर्व विधायक संयम लोढा ने कहा कि राजस्थान का भाजपा नेतृत्व अपनी ही पार्टी के जनप्रतिनिधियों द्वारा सिरोही जिले में भ्रष्टाचार के मामलों में कार्रवाई करने की बजाय धृतराष्ट्र की भूमिका निभा रहा है। उन्होने कहा कि दर्जनो निर्माण स्वीकृतियों में मौका देखने पर ही भ्रष्टाचार की पोल सामने आ जाती है।

यही कारण है कि भाजपा के अपने चुने हुए जनप्रतिनिधियो को सडक पर आना पड रहा है। लोढा बुधवार को सुनहरी कुंज में कांग्रेस पार्टी द्वारा सिरोही विधानसभा क्षेत्र में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के शक्ति कार्यक्रम से जुडाव को लेकर आयोजित बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। 

उन्होने कहा कि राज्य सरकार का कोई प्रतिनिधि एक दिन अधिकारिक रूप से सिरोही-शिवगंज आ जाये तो सारे घोटाले मौके पर ले जाकर बता देंगे। बार-बार स्थानीय निकायो के जनप्रतिनिधि जयपुर सिरोही तक सबको बताकर आ गये लेकिन कानो में रूई ठुंस कर बैठे है। लोढा ने कहा कि अभद्र टिप्पणी वाले ऑडियो की एफ.एस.एल. जांच के मामले में भाजपा पुलिस को दबा रही है। पूरा जिला जानता है कि आवाज किसकी है। पूरी भाजपा में एक आदमी नही है जो सच बोल सके, यह अत्यन्त दुखद है। इसका परिणाम भाजपा को भुगतना होगा।

‌लोढा ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा हाल ही में की गई घोषणा के बाद भी जिले में 582 करोड में से 400 करोड रूपये का कर्जा माफ नही हो सकेगा। कांग्रेस पूर्ण कर्ज माफी की लडाई लडेगी। ए.आई.सी.सी. समन्वयक राजेश कुमावत ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के शक्ति प्रोजेक्ट की सबसे पहले राजस्थान में लॉचिंग हुई। शक्ति प्रोजेक्ट से आम कांग्रेसजनो को जोडने के लिये मोबाईल नंबर जारी किया गया है। इस मोबाईल नंबर पर खुद के वोटर आई.डी. का नंबर एवं एस.एम.एस. करना होगा। इसके बाद प्रक्रिया में आईडी सत्यापन के बाद रजिस्टर्ड होने पर कांग्रेस हाईकमान से नियमित संवाद से जुड पायेंगे।

बैठक में शिवगंज प्रधान जीवाराम आर्य, सिरोही युवक विधानसभा अध्यक्ष मुजफ्फर बैग, एससी प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष गुलबाराम गोयल, एनएसयूआई जिलाध्यक्ष सुरेश राव, महिला जिलाध्यक्ष हेमलता शर्मा, महिला नगर अध्यक्ष शिवगंज जुली जैन, छात्र नेता दशरथसिंह नरूका, वरिष्ठ कांग्रेसी सुजानसिंह सोलंकी, प्रतिपक्ष नेता ईश्वर डाबी, पार्षद पिंकी रावल, पूर्व उपप्रधान मोतीसिंह देवडा, खीमसिंह राठौड मोहब्बतनगर, मंगल मीणा, नंद किशोर चारण, तलसाराम राणा, हरिश रूखाडा, राजेन्द्रसिंह जाखोडा, महावीरसिंह, बागसीन सरपंच पूरणसिंह देवडा, जब्बरसिंह तंवरी, छगन सुथार, हरिओम दत्ता, गोपीलाल मेघवाल, दिनेश सेन, सीता पुरोहित, पूरण कुंवर, राजेन्द्र रावल मनादर, पुखराज परिहार, दिनेश प्रजापत, विषणु प्रजापत, मुख्तियार खान उर्फ बाबुभाई, विनोद देवडा, सत्येन मीणा, प्रतिपक्ष नेता शिवगंज अब्बास अली, अल्पेश माली, रणछोड सेन, पूर्व प्रधान अचलाराम माली, छगन प्रजापत, लेखराज ओझा, शेखर गौड, रणछोड दत्ता, जोगाराम मेघवाल इत्यादि सैकडो कांग्रेसजन उपस्थित थे।