छह महीने जुट जाएं कांग्रेस कार्यकर्ता, भाजपा वाले भी देंगे साथः लोढा

sirohi, congress, sachin pilot
congress workers collect to welcome new district prez in sirohi

सबगुरु न्यूज-सिरोही। जयपुर में पूर्व विधायक संयम लोढा विरोधी गुट के कांग्रेस पदाधिकारी नव नियुक्त जिलाध्यक्ष को हटाने के लिए प्रदेशाध्यक्ष के सामने अपनी दलीलें रख रहे थे तो सिरोही में इसी दौरान नव नियुक्त जिलाध्यक्ष जीवाराम आर्य का कार्यग्रहण और अभिनन्दन समारोह हो रहा था।

इस दौरान मौजूद सैंकडों कार्यकर्ताओं को एआईसीसी सदस्य संयम लोढा ने कहा कि सभी कांग्रेस कार्यकर्ता भाजपा की जनविरोधी सरकार को उखाड फैंकने के अगले छह महीने जमकर अपने-अपने क्षेत्रों में लग जाएं। उन्होंने दावा किया इस कार्य में उनका साथ भाजपा के कार्यकर्ता भी देंगे।
लोढा ने कहा कि भाजपा सरकार ने जनहित की बात करने वाले अपने ही पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को उत्पीडन करके उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई और जेल भेजा। उन्होंने सिरोही मंडल अध्यक्ष सुरेश सगरवंशी, रणछोड देवासी और बाढ के समय में गायों को बचाने वाले देवासी युवक के साथ हुए दुव्र्यवहार को कांग्रेस पदाधिकारियों के समक्ष रखा।

उन्होंने दावा किया कि ऐसा यदि उनकी सरकार में कांग्रेस के किसी कार्यकर्ता के साथ कोई करता तो वह दो मिनट में ऐसे अधिकारियों की रवानगी करवा देते। लोढा ने आरोप लगाया कि भाजपा ने सत्ता में आते ही जमीनें ढूंढकर उस पर कब्जा करने का काम किया।

उन्होंने भाजपा कार्यालय के लिए कथित रूप से औने-पौने दामों पर दी गई जमीन का जिक्र करते हुए कहा कि यह जमीनें भाजपा की नहीं जनता की है। इन्हें बचाने के लिए कांग्रेस हर संभव प्रयास करेगी। ड्रग्स, जुआं-सट्टा से युवा नस्ल को बर्बाद किया जा रहा है, लेकिन भाजपा और पुलिस सब देखकर मौन है।
उन्होंने आरोप लगाया कि हाइवे पर टैंकरों से ढाबों पर तेल और केमीकल चुरा लिया जाता है। सभी बंधी का खेल है। उन्होंने कहा कि साहुकारों को पेरशान करने वाली पुलिस महात्मा गांधी के फोटो वाले कागज के कारण यह सब कर रही है। उन्होंने कहा कि जिले भर में आबकारी विभाग को लूट की खुली छूट दी हुई है।

उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता ही क्या मेरे कोई विरोधी भी यह नहीं कह सकते कि मैने किसी का कोई काम कभी लौटाया हो। उन्होने कहा कि अकेले संयम लोढा, जीवाराम आर्य, गंगाबेन आदि से कांग्रेस नहीं जीत पाएगी। कांग्रेस को जिताने के लिए सामूहिक प्रयास की आवश्यकता है। अपने बच्चो के बेहतर भविष्य के लिए भी कार्यकर्ताओं को जुटना होगा।

उन्होंने कहा कि जीवाराम आर्य सिर्फ प्रतीक हैं। जिले में हर कार्यकर्ता कांग्रेस का जिलाध्यक्ष है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग इनके चुने जाने का विरोध कर रहे हैं, उन पर तरस आता है। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस पार्टी में किसी भी पद पर चयन की प्रक्रिया से पूर्व पार्टी अपने स्तर पर कई बार पूछताछ करती है। कई मापदंडों पर तोलती है तब पद देतीे है।

उन्होंने वीएन गाडगिल के कथन को यहां दोहराते हुए कि कि कांग्रेस रेल का जनरल डिब्बा है, जिसमें लोग बैठने और यहां तक कि खडे होने के लिए आतुर रहते हैं। किसी स्टेशन पर कुछ लोग उतरते हैं तो उसी स्टेशन से कई लोग चढते भी हैं। उन्होंने कहा कि अब कांग्रेस के इस कोच में लोग चढने को आतुर हैं।
प्रदेश सचिव राजेन्द्र सांखला ने कहा कि जमीन से जुडे कार्यकर्ता को जिलाध्यक्ष बनाकर कांग्रेस पार्टी ने संगठन में युवाओं की नई पीढी को अवसर दिया है। उन्होंने कहा कि जमीन से जुडे जिलाध्यक्ष जमीनी कार्यकर्ताओं की भावनाओं को समझकर कांग्रेस को नई उंचाई पर ले जाएंगे।

उन्होंने जिलाध्यक्ष द्वारा ब्लाॅक स्तर पर चुने गए युवा अध्यक्षों का हाथ मजबूत करते प्रदेश से भाजपा को उखाड फेंकने का आह्वान किया। निवर्तमान जिलाध्यक्ष गंगाबेन गरासिया ने कहा कि वे 13 साल तक कांग्रेस की जिलाध्यक्ष रहीं। हर जनप्रतिनिधि, पदाधिकारी व कायकर्ता ने उनका जीतोड सहयोग किया।

उन्होंने नवनियुक्त जिलाध्यक्ष जीवाराम आर्य का भी इसी तरह से सहयोग करने का आह्वान किया। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी द्वारा नियुक्त रेवदर विधानसभा के समन्वयक चंदन सिंह राजपुरोहित ने कहा कि कांग्रेस लोगों की तकलीफ कम करती है। जबकि भाजपा सरकार बढ़ाने के काम में रुचि रखती है।

नवनियुक्त जिला अध्यक्ष जीवाराम आर्य ने कहा कि कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को चुनावों में हमेशा सचेत रहकर काम करना होगा, भाजपाई झूठ फैलाते हैं, नफरत फैलाते है,ं दुष्प्रचार करते हैं, भ्रम फैलाने का काम करते हैं, इसलिए ज्यादा जागरुक होकर उन से पार पाना होगा। आर्य ने अपनी नियुक्ति पर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी व प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट सहित प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं तथा अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य संयम लोढ़ा का आभार जताया।
पूर्व सांसद पारसाराम मेघवाल ने कहा कि संगठन में कार्यकर्ता हमेशा बड़ा होता हैं उसका सम्मान होना आवश्यक हैं। उन्होेंने जिले में नियुक्त जिलाध्यक्ष आर्य एवम् सभी ब्लाॅक अध्यक्षों को शुभकामनाएंे दी। रेवदर विधासभा से कांग्रेस प्रत्याशी एवम् प्रदेश कांग्रेस सदस्य लखमाराम कोली ने भी विचार रखे।

sirohi, congess, sanyam lodha, sachin pilot
congress office bearer of sirohi in sunhari kunj during welcome function of ditrict president jivaram ary

जिले के सभी छः ब्लाॅक सिरोही के किशोर पुरोहित, रेवदर के वीरभद्र सिंह देवड़ा, माउण्ट आबू के नारायण सिंह भाटी, आबूरोड़ के रशीद खांन कायमखानी, पिण्ड़वाड़ा के प्रेमाराम देवासी एवम् शिवगंज के हरीश राठौड़ ने भी अपनी नियुक्ति पर पार्टी के नेताओं का आभार जताते हुए अपने अपने ब्लाॅक में संगठन को मजबूत बनाने का संकल्प दोहराया।
समारोह में पूर्व ब्लाॅक अध्यक्ष पिण्ड़वाड़ा, राकेश रावल, माउण्ट आबू के हड़वंतसिंह देवड़ा, रेवदर के आनन्द जोशी, यु.आई.टी. आबू के पूर्व अध्यक्ष हरीश चैधरी, पूर्व पालिकाध्यक्ष अश्विन गर्ग, सेवादल जिला मुख्य संगठक भुराराम कोली, एन.एस.यु.आई. जिलाध्यक्ष सुरेश राव, युवा कांगे्रस के विधासभा अध्यक्ष अजरूद्दीन मेमन, मुजफ्फर बैग मिर्जा, मफतलाल बुनकर, जिला उपभोक्ता भण्ड़ार के अध्यक्ष जितेन्द्र ऐरन, जिला सहकारी संघ के अध्यक्ष प्रकाश आर्य, पालिकाओं में प्रतिपक्ष नेता नरगिस कायमखानी, संजय गर्ग, अब्बास अली, ईश्वरसिंह ड़ाबी, पूर्व प्रधान रेवदर मोतीराम कोली, शिवगंज के अचलाराम माली, सुमेरपुर के हरीशंकर मेेवाड़ा, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के कांग्रेस जिलाध्यक्ष मारूफ हुसैन, कांगेस आई.टी. सेल के जिला संयोजक राजेन्द्र माली, लाभशंकर त्रिवेदी, नटवरसिंह, रविन्द रावल, वरिष्ठ कांग्रेसी मानाराम पुरोहित, इब्राहीम खांन, जब्बरसिंह तंवरी, सुरेन्द्र भाई जैन, के.पी. सिंह डबानी, महिला कांग्रेस नेता जुली जैन, ममता चितारा, मीना भाटी सैन, कालन्द्री नगर कांग्रेस अध्यक्ष महेन्द्र गेहलोत, पूर्व उप प्रधान मोतीसिंह देवड़ा, राजेन्द्र रावल मौजू थे।

वहीं शिवगंज उपप्रधान मोटाराम देवासी, देवीदान चारण, महिपेन्द्रसिंह ड़ाक, डुंगरसिंह रेवदर, पूर्व अल्प संख्यक प्रकोष्ठ अध्यक्ष फजल मोहम्मद, खीमसिंह मोब्बत नगर, विधि प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष एड़वोकेट कुलदीप रावल, व्यापार एवम् उद्योग प्रकोष्ठ अध्यक्ष प्रताप माली, जावाल के पुनित अग्रवाल, पंचायत समिति सदस्य छगन कुम्हार, मंगल कुमार मीणा, लकमाराम गरासिया, लीलाराम गरासिया, जमना, चम्पालाल मीणा, प्रकाश मीणा, सकाराम मेघवाल, छगन सुथार, पूर्व सरपंच रजनी मेघवाल, रताराम देवासी, सरपंच संघ, शिवगंज अध्यक्ष पुरणसिंह देवड़ा, आबूरोड़ की ललिता गरासिया कार्यक्रम में शामिल हुए।

इसी तरह जिला कांग्रेस सचिव पिंकी मेघवाल, मुख्तियार खांन उर्फ बाबु, पूर्व जिलाध्यक्ष युवा कांग्रेस भूपेन्द्रसिंह सोलंकी, पुराराम गरासिया, कांग्रेस एस.टी. प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष नींबाराम गरासिया, संजय परमार, शकूर भाटी, इंटक मजदूर युनियन जे.के. पुरम के अध्यक्ष इन्द्रसिंह देवड़ा, पार्षद दीपक सैनी, मीनू सैनी, प्रकाश कुमार मीणा, अल्पेश माली, महेन्द्र वाघेला, पूर्व पालिकाध्यक्ष छगन गेहलोत, रामलाल पुरोहित, सागर अग्रवाल, धर्मेश पी. जैन, आर्य समाज शिवगंज के हरदेव आर्य शिवगंज पूर्व नगर अध्यक्ष पुखराज परिहार सहित कई कांग्रेस नेेता व गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।
जिलाध्यक्ष जीवाराम आर्य व ब्लाॅक अध्यक्ष किशोर पुरोहित, वीरभद्रसिंह देवड़ा, हरीश राठौड़, नारायणसिंह भाटी, रशीद खांन कायमखानी व प्रेमाराम देवासी का मंच पर पूर्व पदाधिकारिेयों एवम् निवर्तमान जिलाध्यक्ष गंगाबेन गरासिया ने साफा व माला पहनाकर स्वागत की शुरूआत की। मजदूर युनियन (इंटक) के जिलाध्यक्ष इन्दर सिंह देवड़ा जे.के. पुरम एवम् उनके पदाधिकारियों ने अलग से साफा माला पहनाकर स्वागत किया।
-अफवाहों के बीच कार्यक्रम में पहुंची गंगाबेन
सुनहरी कुंज में नव नियुक्त जिलाध्यक्ष जीवाराम आर्य व उनके द्वारा नियुक्त छह ब्लाॅक अध्यक्षों के कार्यभार ग्रहण व स्वागत समारोह में निवर्तमान जिलाध्यक्ष गंगाबेन गरासिया के हिस्सा नहीं लेने की पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही थी।

इस पोस्ट को झूठा साबित करते हुए गंगाबेन न सिर्फ इस कार्यक्रम में पहुंची बल्कि उन्होंने जीवाराम आर्य का हाथ मजबूत करने का भी आह्वान किया। वहीं आर्य के मनोनयन के विरोध करने वाले गुट के लोग यहां नहीं पहुंचे।