टीम के युवा खिलाड़ियों ने किया अच्छा प्रदर्शन : लोकेश राहुल

Lokesh Rahul said that the young players of the team did well
Lokesh Rahul said that the young players of the team did well

चेन्नई। पांच बार की आईपीएल विजेता मुंबई इंडियंस के खिलाफ यहां शुक्रवार को आईपीएल 14 के 17वें मुकाबले में बड़ी जीत के बाद पंजाब किंग्स के कप्तान और मैन ऑफ द मैच रहे लोकेश राहुल ने कहा कि वह खुद को बहुत आगे नहीं ले जाना चाहते हैं। वह धीरे-धीरे एक टीम के रूप में आगे आ रहे हैं। वह अभी भी एक युवा टीम हैं और इस मैच में टीम के युवा खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया।

राहुल ने मैच के बाद कहा, हम हर साल नए खिलाड़ियों को लाते हैं, इसलिए धैर्य रखना जरूरी है। हमने जिन खिलाड़ियों का समर्थन किया है और अवसर दिए हैं वे धीरे-धीरे उभर रहे हैं। दीपक हुड्डा अच्छा खेल रहे हैं। शाहरुख को मौका मिला और उन्होंने इस मौके का बखूबी फायदा उठाया। वह अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं। बिश्नोई ने आज अपने पहले ही मैच में शानदार गेंदबाजी की। मुझे यकीन है कि इससे बिश्नाेई का आत्मविश्वास बढ़ेगा। दुर्भाग्यवश वह शुरुआती मुकाबले नहीं खेल पाए। वह अनिल भाई (कुंबले) के साथ सच में कड़ी मेहनत कर रहे हैं। उन्हें कुछ चीजों को ठीक करने की जरूरत थी और आज उन्होंने बहादुरी से गेंदबाजी की। यह देखना बहुत अच्छा था। उन्होंने अपना मानसिक संतुलन बनाए रखा और अच्छी गेंदबाजी की।

पंजाब के कप्तान ने कहा, शायद अब हम आगे की ओर बढ़ना जारी रख सकते हैं और अगले हर मैच में दो अंक हासिल कर सकते हैं। दूसरी पारी में बल्लेबाजी को लेकर मेरी प्रमुख कोच के साथ थोड़ी लंबी बातचीत हुई थी। मुझे लगा था कि विकेट पर ओस रहेगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मेरे हिसाब से गेंदबाज हमेशा दबाव में रहे। यह महत्वपूर्ण था कि हमारे गेंदबाज इस तरह की विकेट पर पहले गेंदबाजी करें। हमने सुना था कि यहां बहुत ओस रहती है, इसलिए मुझे ऐसा लगा कि मैं यहां एक महत्वूपर्ण भूमिका निभा सकता हूं। सीधी गेंदों को खेलना आसान था, लेकिन जब गेंद घूम रही थी और उछल रही थी तो खेलना बहुत मुश्किल होता है।

अच्छी बात यह थी इस समय क्रिस गेल क्रीज पर मेरे साथ थे। गेल ने अच्‍छा आत्‍मविश्‍वास दिखाया। उन्‍हें पता है किस गेंदबाज के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाना है। क्रिस के साथ आपको इसी का फायदा मिलता है। वह न केवल खतरनाक बल्लेबाजी करते हैं, बल्कि उन्हें टी-20 क्रिकेट खेलने का कई वर्षाें का अनुभव भी है। जब मुझे पता होता है कि मैं किस लक्ष्य का पीछा कर रहा हूं तो पारी को गति देना थोड़ा आसान हो जाता है। मैंने जिस तरह से खेल को खत्म किया है उससे खुश हूं और यह सबसे महत्वपूर्ण चीज है।