अजमेर : उद्योगपति अनिल जिंदल के घर में लाखों की लूट

Verified Apps to watch T20 World Cup 2022 Live Stream

अजमेर। कचहरी रोड पर उद्योगपति के घर में नौकर ने अपने दो बदमाश साथियों के साथ मिलकर लूट की वारदात को अंजाम दे दिया। घर में जमकर तोडफोड की और अलमारियों का लॉक तोडकर लाखों की नकदी व गहने समेटकर ले गए।

वारदात से पहले नौकर ने खाने में नशीला पदार्थ मिला दिया था जिससे उद्योगपति व उनकी मां अचेत हो गई। उनकी बेटी के पहुंचने पर आरोपी मौके पर औजार छोडकर भाग गए। सूचना पाकर पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए जिन्होंने शहर में हर तरफ नाकाबंदी करवा दी, लेकिन बदमाशों का देर रात तक कोई सुराग नहीं लगा।

वारदात कचहरी रोड पर महाराष्ट्र मंडल के निकट रहने वाले उद्योगपति अनिल जिंदल के घर पर हुई। उनकी पत्नी बुधवार को घरेलू काम से जयपुर गई हुई थी। घर पर उनकी बुजूर्ग मां गुलवंती देवी, बेटी खुशी और नौकर कृष्णा था। नौकर ने शाम को खाना बनाया तो उसमें कुछ नशीला पदार्थ मिला दिया था। अनिलको लाहागल रोड स्थित होटल एलएन कोर्टयार्ड जाना था इसलिए उन्होंने बेटी खुशी को को रात 8:15 बजे होटल तक छोडकर आने को कहा।

करीब 20 से 30 मिनट में जब उनकी बेटी घर पहुंची तो उसे घर में दो तीन अनजान लोग होने की आशंका हुई, उसे लगा कि चोर हैं इसलिए उसने वापस गेट बुंद कर दादी व नौकर को आवाज दी तो घर में भगदड मच गई और उसने दरवाजे को बाहर से बंद कर दिया तथा पिता को तुरंत फोन कर जानकारी दी।

इस बीच घर के दूसरे दरवाजे से दो बदमाश व नौकर दरवाजे की कुंदी तोडकर बस स्टेंड की ओर भाग निकले। कुछ मिनट में जिंदल भी कांग्रेस नेता राजकुमार जयपाल व व्यवसाई रणबीर सिंह खुराना के साथ घर पहुंच गए। जहां सब कुछ अस्त व्यस्त था। उनकी मां गुणवंती देवी अचेत पडी थीं। कुछ देर में उन्हें भी नशे का असर हुआ और वह भी कमरे में अचेत हो गए। बेटी खुशी ने दूसरे कमरे में देखा तो सभी अलमारियां खुली हुई थीं। जिससे साफ जाहिर था कि नौकर के साथ मिलकर बदमाशों ने घर में रखी लगभग 2 लाख की नकदी व लाखों रुपए कीमत के सोने चांदी के गहनों को समेट लिया और भाग छूटे।

इस बीच राजकुमार जयपाल ने पुलिस व अन्य परिचितों को फोन कर घटना की जानकारी दी। जिस पर कांग्रेस नेता शिवकुमार बंसल, डा अनंत गुप्ता व आस पास रहने वाले जिंदल के रिश्तेदार भी पहुंच गए जिन्होंने बच्ची को संभाला। जिंदल की बेटी खुशी ने बताया कि नौकर कृष्णा को दो तीन सप्ताह पहले ही रखा था। वह कहां से आया और उसका पुराना रिकार्ड क्या है उसे कुछ जानकारी नहीं है। जिंदल के होश आने पर नौकर के बारे में अधिक जानकारी मिलने की आशा है।

लूट की वारदात में जिंदल की बेटी इसलिए बच गई क्योकि उसने घर पर कुछ भी नहीं खाया था। जबकि जिंदल की मांग को नौकर ने दूध दलिया भी खिलाया था। जिंदल ने घर से जाने से पहले कुछ खाया था या बेटी के बुलाने पर घर आकर संभवत: नशीला पानी पी लिया था जिससे वह भी अचेत हो गए थे।

कोतवाली थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पडताल शुरू कर दी। घर में लगे सीसीटी खंगाले। इएडिशनल एसपी विकास सांगवान, सीओ छवि शर्मा, स्पेशल टीम के प्रभारी विजय सिंह भी मय टीम के मौके पर पहुंच गए तथा घर का बारिकी से निरीक्षण किया। शहर में नाकाबंदी करवा दी गई। नौकर के फोटो भेजकर उसके साथियों के साथ रोडवेज बस स्टेंड व रेलवे स्टेशन पर तलाशा लेकिन देर रात तक बदमाशों का सुराग नहीं लगा। नौकर कृष्णा नेपाली जैसा दिखता है। उसने सफेद टी शर्ट पहनी हुई थी। एक बदमाश ने नीला चौकडीदार शर्ट पहना हुआ था जबकि एक बदमाश ने सफेद रंग का कैप लगा रखा था।