उदयपुर में कर्फ्यू के बीच निकाली गई जगन्नाथ रथ यात्रा

उदयपुर। राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल हत्याकांड के बाद लगे कर्फ्यू के बीच शुक्रवार को भगवान जगन्नाथ रथयात्रा निकाली गई।

भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा अपराह्न में जगदीश मंदिर से शुरु हुई जिसमें सौ से अधिक समाज और संगठनों ने हिस्सा लिया है। इस दौरान भगवान के रथ को भक्तों द्वारा खींचा गया। इस दौरान भक्तों की भारी भीड़ लग गई और कर्फ्यू के बीच भगवान के जयकारों से माहौल भक्तिमय बन गया। शहर में भगवान जगन्नाथ चांदी के रथ पर सवार होकर नगर भ्रमण पर निकले।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक दिनेश एम एन के अनुसार भगवान जगन्नाथ की यात्रा के लिए करीब दो हजार पुलिसकर्मियों का जाब्ता लगाया गया और इस दौरान कई अनुभवी अधिकारियों को इसमें लगाया गया है। पुलिस ने कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पूरी चौकसी बरत रही हैं और पूरी तरह सतर्क हैं। उन्होंने बताया कि उदयपुर में अब माहौल ठीक हैं और सब शांति चाहते हैं और जल्द ही स्थिति सामान्य होने की उम्मीद है।

कोरोना के चलते पिछले दो साल से उदयपुर शहर में यह रथ यात्रा नहीं निकाली जा सकी थी और इस बार भी कन्हैयालाल हत्याकांड के बाद शहर के सात थाना क्षेत्रों में लगे कर्फ्यू के कारण लग रहा था कि यात्रा नहीं हो पाएगी लेकिन पुलिस की मदद एवं यात्रा आयोजकों के शांतिपूर्ण यात्रा निकालने की बात पर इसे अनुमति मिल गई।