मां यमुनोत्री धाम के कपाट ग्रीष्मकालीन दर्शनों के लिए खुले

यमुनोत्री धाम। उत्तराखंड स्थित विश्व प्रसिद्ध मां यमुनोत्री धाम के कपाट शुक्रवार को अक्षय तृतीया के पावन अवसर पर अपराह्न 12:15 बजे अभिजीत मुहूर्त में श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिए गए।

कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत, राज्य सरकार द्वारा चारधाम यात्रा प्रतिबंधित किए के कारण बिना श्रद्धालुओं के धाम के कपाट खोले गए। कोविड मानकों का पालन करते हुए सीमित संख्या में उपस्थित मन्दिर प्रशासन और पुरोहितों की उपस्थिति में शीतकालीन निवास स्थल खुशीमठ (खरसाली) में मां यमुना की विदाई हुई, जो 11 बजे यमुनोत्री धाम पहुंची।

विधिवत पूजा-अर्चना के बाद अभिजीत मुहूर्त पर कर्क लग्न में 12 बजकर 15 मिनट पर परंपरा अनुसार वैदिक मंत्रोच्चार के साथ श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ यमुनोत्री धाम के कपाट खोल दिए गए हैं। अब आगामी ग्रीष्मकाल के छह माह तक तीर्थयात्री मां यमुना के दर्शन यमुनोत्री धाम में कर सकेंगे।

बाबा केदार की पंचमुखी डोली केदारनाथ धाम को रवाना