गुना के चांचौड़ा कस्बे में 15 साल की स्कूली छात्रा से गैंगरेप

गुना। मध्यप्रदेश के गुना जिले के चांचौड़ा कस्बे में एक 15 वर्षीय स्कूली छात्रा के साथ अपहरण एवं सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। इस जघन्य वारदात में शामिल 6 में से तीन आरोपियों को गिरफ़्तार किया जा चुका है। फिलहाल पीड़िता का गुना जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

स्थानीय प्रशासन अगले 24 घंटे में आरोपियों के मकानों को तोड़ने की तैयारी कर रहा है। इस हेतु सभी आरोपियों के मकानों पर अवैध एवं नियम विरुद्ध ढंग से निर्माण किए जाने के नोटिस चस्पा कर दिए गए हैं।

घटना से आक्रोशित स्थानीय निवासियों ने शनिवार सुबह विरोध प्रदर्शन करते हुए आगरा-मुम्बई राष्ट्रीय राजमार्ग पर चक्काजाम कर दिया। हालांकि पुलिस द्वारा दी गई समझाईश और आरोपियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई के आश्वासन के बाद प्रदर्शनकारयों ने जाम खोल दिया।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार चांचौड़ा निवासी पीड़िता सामान्य दिनों की तरह ही शुक्रवार सुबह स्कूल गई थी, लेकिन छात्रों की संख्या कम होने के कारण स्कूल प्रबंधन ने स्कूल की छुट्टी घोषित कर दी।

छुट्टी के बाद पैदल घर लौटने के दौरान करीब दस बजे, सड़क पर से ही 6 लोगों ने पीड़िता का अपहरण कर लिया। आरोपी उसे चांचौड़ा-बीनागंज रोड स्थित एक सुनसान मकान में ले गए, जहां उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया।

दोपहर तक पीड़िता के घर न पहुंचने पर परिजनों ने उसे खोजना शुरू कर दिया। शुक्रवार रात करीब 8 बजे पीड़िता उन्हें सुनसान मकान में बदहवासी की हालत में मिली। जहां से परिजन उसे लेकर चांचौड़ा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर लेकर पहुँचे, वहां से उसे जिला अस्पताल गुना के लिए रैफर दिया।

वारदात की जानकारी शनिवार सुबह सार्वजनिक होने पर बीनागंज-चांचौड़ा कस्बा क्षेत्र के लोगों में आक्रोश पनप गया। भाजपा, कांग्रेस सहित तमाम संगठनों के अलावा स्थानीय नागरिकों ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर जाम लगा दिया और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की।

लंबे समय तक नारेबाजी के बाद प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर बताया कि तीन आरोपियों की गिरफ्तार हो चुकी है, जिसमें एक नाबालिग भी शामिल है। वहीं आरोपियों के अवैध मकानों को ध्वस्त करने के लिए उनके आवासों पर नोटिस चस्पा कर दिया है।

आरोपियों के मकान 24 घंटे बाद धराशायी कर दिए जाएंगे। इस आश्वासन के बाद प्रदर्शन खत्म हुआ। उधर जिला अस्पताल में भर्ती पीड़िता से प्रशासन और पुलिस अधिकारियों ने चर्चा की। पीड़िता के पिता ने दुष्कर्म की पुष्टि कर दी है।