महाराष्ट्र के कृषि मंत्री पांडुरंग फुंडकर का हृदयाघात से निधन

Maharashtra Agriculture Minister Pandurang Fundkar dies of heart attack

मुंबई। महाराष्ट्र के कृषि मंत्री पांडुरंग फुंडकर का हृदयाघात के कारण आज निधन हो गया। वह 67 वर्ष के थे। उनके परिवार में पत्नी सुनीता, पुत्र सागर फुंडकर और पुत्री वसुंधरा हैं।

फुंडकर तीन बार सांसद रह चुके थे और महाराष्ट्र इकाई के पार्टी अध्यक्ष भी थे। वह 1978 में पहली बार विधायक चुने गए थे। उनका जन्म 21 अगस्त 1950 को बुलढाना जिला के नारखेड गांव में हुआ था।

फुंडकर 1977 से सक्रिय राजनीति में हैं और भाजपा के प्रति हमेशा वफादार रहे। महाराष्ट्र विधान परिषद में विपक्षी नेता भी थे।

खामगांव विधानसभा चुनाव क्षेत्र से वर्ष 1978 और 1980 में चुनाव जीते थे। वह देवेन्द्र फडनवीस मंत्रिमंडल में आठ जुलाई 2016 को शामिल किए गए थे।

फुंडकर किसान परिवार से आते हैं और दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे के कट्टर समर्थक थे। देश में कांग्रेस के शासन में आपातकाल के दौरान फुंडकर तीन माह जेल मे भी रहे थे और मीसा कानून के तहत नौ माह जेल मे थे।

फुंडकर को वर्ष 2006-07 में तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने श्रेष्ठ सांसद के रूप में सम्मानित किया था। फुंडकर का कल अंतिम संस्कार खामगांव के सिद्धि विनायक इंजीनियरिंग कालेज के मैदान में होगा।