महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने समीर वानखेड़े की जासूसी का खंड़न किया

मुंबई। महाराष्ट्र सरकार ने शाहरूख खान के बेटे आर्यन खान ड्रग्स मामले की जांच कर रहे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े के जासूसी संबंधी आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि शहर पुलिस उन पर निगरानी नहीं रख रही है। समीर ने आरोप लगाया था कि महाराष्ट्र पुलिस के कुछ कर्मचारी उनकी गतिविधियों पर नजर रखे हुए हैं।

महाराष्ट्र के गृह मंत्री दिलीप वालसे पाटिल ने मंगलवार को पत्रकारों को बताया कि शहर पुलिस उनकी गतिविधियों पर नजर नहीं रख रही है। दरअसल समीर ने पुलिस में दर्ज शिकायत में कहा था कि दो पुलिसकर्मी उनकी गतिविधियों पर नजर रखे हुए हैं, खासकर जब वह नियमित तौर पर ओशिवारा में अपनी माताजी की कब्र को देखने जा रहे हैं तो दो पुलिसकर्मियों ने उनकी गतिविधियों पर नजर रखने के लिए उस क्षेत्र की सीसीटीवी फुटेज को अपने कब्जे में लिया था।

ये दोनों पुलिसकर्मी ओशिवारा पुलिस स्टेशन के ही हैं। वानखेड़े वर्ष 2020 के चर्चित सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले की भी जांच कर रहे हैं जिसमें अनेक हाई प्रोफाइल लोगों के नाम सामने आए थे।