महाशिवरात्रि पर ‘हर-हर महादेव’ से गूंजे शिवालय

Mahashivratri celebrations in bihar
Mahashivratri celebrations in bihar

पटना। बिहार में राजधानी पटना सहित पूरे राज्य के शिवालय महाशिवरात्रि पर्व को लेकर भक्तों के हर-हर महादेव के नारों से गूंजायमान हो रहे हैं। महाशिवरात्रि को लेकर मंदिरों में पूजन, जलाभिषेक, रूद्राभिषेक के लिए खास इंतजाम किए गए हैं।

वैसे, बिहार में इस साल महाशिवरात्रि का पर्व दो दिन मनाया जा रहा है। राज्य के कई हिस्सों में बुधवार को भी महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जाएगा।

पटना के मंदिरों में मंगलवार तड़के से भक्तों के आने का सिलसिला शुरू हो गया। महाशिवरात्रि के मौके पर भक्त अपने अराध्य की पूजा-अर्चना करने के लिए शिवालयों में पहुंच रहे हैं। शिवालयों में शिव भक्तों की कतार लगी है। पटना में छोटे-बड़े सभी शिवालयों को फूलों से सजाया गया है और आकर्षक ढंग से रोशनी की व्यवस्था की गई है।

मुजफ्फरपुर, हाजीपुर, सुपौल, औरंगाबाद, पूर्वी चंपारण और बक्सर में भी सुबह से ही शिवालयों में भक्ति के गीत बज रहे हैं। महिला शिवभक्त गीत गाकर भगवान शिव को खुश करने का प्रयास कर रही हैं। महादेव और मां पार्वती के विवाहोत्सव महाशिवरात्रि के पर्व पर कई मंदिरों में शोभायात्रा और झांकी भी निकाली जाएगी।

पटना में खाजपुरा शिव मंदिर में शाम को भव्य शोभायात्रा निकाली जाएगी। पटना के 14 इलाकों में शोभायात्रा द्वारा शिव बारात निकाली जाएगी। सभी शोभायात्राएं बेली रोड स्थित खाजपुरा शिव मंदिर के पास एकत्रित होंगी। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी भाग लेंगे। महाशिवरात्रि के मौके पर कई शिवालयों और मंदिरों में अखंड कीर्तन, जलाभिषेक और रूद्राभिषेक का अनुष्ठान हो रहा है।

ज्योतिषी मार्कण्डेय शारदेय के मुताबिक, इस वर्ष मंगलवार 13 फरवरी की रात 10 बजे से 14 फरवरी की रात 12.20 बजे तक चुतर्दशी तिथि है। इस कारण इस साल दो दिन महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जा रहा है।”

उन्होंने कहा शिवरात्रि के दिन भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है तथा सभी कष्टों से मनुष्य को मुक्ति मिल जाती है।