अजमेर में महात्मा ज्योतिबा फुले की 129वीं पुण्यतिथि पर पुष्पांजलि

Verified Apps to watch T20 World Cup 2022 Live Stream

अजमेर। सामाजिक क्रांति के अग्रदूत, महिला शिक्षा के जनक, गरीबों के मसीहा महात्मा ज्योतिबा फुले की 129वीं पुण्यतिथि पर गुरुवार को ज्योतिबाफुले सर्किल स्थित महात्मा ज्योतिबा फुले की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की गई।

इस मौके पर उपस्थित प्रबुद्धजनों, शिक्षाविदों, वरिष्ठ नागरिकों, सामाजिक संगठनों, महिला व युवा समितियों के अध्यक्षों, राजनीतिक पार्टियों भाजपा व कांग्रेस के नेताओं, पधाधिकारियों, सदस्यों, पार्षदों तथा गणमान्यजनों ने महात्मा फुले को श्रद्धासुमन अर्पित किए।

सुबह-सुबह हल्की गुलाबी ठंड के बावजूद भी माली समाज के लोगों व नेताओं का सर्किल पर तांता लगा रहा। सर्किल पर उपस्थित जन समूह ने जोश व उत्साह के साथ नारे लगाए। महात्मा ज्योतिबा फुले मर रहे, माता सावित्रीबाई फुले अमर रहे, जब तक सुरज चांद रहेगा ज्योतिबा तेरा नाम रहेगा। जैसे नारों से सारा सर्किल गुंजायमान हो गया।

उपस्थित जन समूह ने महात्मा ज्योतिबा फुले के बताए मार्ग पर चलने का संकल्प तथा उनके आदर्शों को जीवन मे उतारने का प्रण लिया। महात्मा ज्योतिबा फुले ने शिक्षा पर जोर देते हुए सबसे पहले अपनी पत्नी को पढाकर शिक्षा की अलख जलाने की अपने घर से ही शुरुआत की और पहला महिला विधालय की स्थापना की।

बेटी पढाओ-बेटी बचाओ पर आज भारत सरकार कल्याणकारी योजनाएं बना कर कार्य कर रही लेकिन इस कार्य का बीडा महात्मा ज्योतिबा फुले ने 18वीं शताब्दी में शुरू कर दिया था। सर्किल पर उपस्थित जन समूह ने एक सुर में फुले दम्पती को भारतरत्न से सम्मानित करने की मांग पुरजोर तरीक़े से उठाई।

पुष्पाजंलि व माल्यार्पण के अवसर पर मेयर धर्मेंद्र गहलोत, शहर कांग्रेस अध्यक्ष विजय जैन, विधायक अनिता भदेल, पूनम चन्द्र मारोठिया, इंन्दौरा, महेश चौहान, प्रदीप कच्छावा, मनीष मारोठिया, धमेन्द्र टांक, डा.जितेंद्र मारोठिया, प्रदीप कच्छावा, राजेश भाटी, मेवा लाल जादम, चन्द्र शेखर मौर्य, अनिल मौर्य, हेमराज सिसोदिया, सतीश सैनी, वीर सिंह चौहान, डा.भूपेन्द्र कटारिया, रवि कच्छावा, मामराज सेन, शंकर टाक, गोपी किशन जादम, देवी सिंह रावत, मोती सिंह सैनी, सुनिता चौहान, शारदा मालाकार समेत बडी संख्या में लोग मौजूद थे।