महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली के पास 10 हजारी बनने का मौका

Mahendra Singh Dhoni and Virat Kohli have the chance to become 10,000
Mahendra Singh Dhoni and Virat Kohli have the chance to become 10,000

नयी दिल्ली । भारतीय कप्तान विराट कोहली और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के पास इंग्लैंड के खिलाफ 12 जुलाई से शुरू हो रही तीन मैचों की वनडे सीरीज़ में 10 हजारी बनने का मौका रहेगा।

29 वर्षीय विराट 208 मैचों में 58.10 के प्रभावशाली औसत से 9588 रन बना चुके हैं और उन्हें 10 हजार रनों तक पहुंचने के लिये 402 रन की जरूरत है जो कि एक मुश्किल चुनौती है लेकिन विराट ऐसा करने में सक्षम है। विराट अब तक 35 शतक के साथ एकदिवसीय मैचों में सर्वाधिक शतक बनाने के मामले में सचिन तेंदुलकर के बाद दूसरे स्थान पर हैं।

पूर्व कप्तान और विकेटकीपर धोनी 318 मैचों में 51.37 के औसत से 9967 रन बना चुके हैं और उन्हें 10 हजार रनों के लिये 33 रन की जरूरत है। धोनी के खाते में 10 शतक और 67 अर्धशतक हैं। वह इसके अलावा एकदिवसीय मैचों में 300 कैचों का आंकड़ा भी पूरा कर सकते हैं। वह अब तक विकेट के पीछे 297 कैच लपक चुके हैं।

एकदिवसीय मैचों में अब तक दुनिया के 11 खिलाड़ियों ने 10 हजार रन पूरे किये हैं। सचिन तेंदुलकर 18426 के साथ नंबर एक बल्लेबाज़ हैं। भारत की ओर से सौरभ गांगुली 11363 और राहुल द्रविड़ 10889 रनों के साथ 10 हजारी बनने वाले दो अन्य बल्लेबाज़ हैं। धोनी इस क्लब में शामिल होने वाले भारत के चौथे और दुनिया के 12वें बल्लेबाज़ बन सकते हैं।

विराट के पास टेस्ट, वनडे और ट्वंटी 20 तीनों फार्मेट को मिलाकर सर्वाधिक रन बनाने में पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग को भी पीछे छोड़ने का मौका रहेगा। विराट तीनों फार्मेट में कुल 17244 रन बना चुके हैं और सहवाग के खाते में 17253 रन हैं। विराट को सहवाग से आगे निकलने के लिये मात्र 10 रन की जरूरत है और इसके साथ ही वह तीनों फार्मेट में सर्वाधिक रन बनाने में 20वें नंबर पर पहुंच जाएंगे।