पुराने फोन में पाना है नया जैसा अहसास तो करें ये काम, मोबाइल चलेगा नए जैसे

SABGURU NEWS: पुराने फोन में पाना है नया जैसा अहसास तो करें ये काम, मोबाइल चलेगा नए जैसे|

Remove mobile apps from Phone

बैकग्राउंड एप से बचाएं अपने स्मार्टफोन की रैम-

कई एप ऐसे होते हैं जो बंद  करने के बाद भी बैकग्राउंड में रैम का इस्तेमाल करते हैं। इससे फोन हैंग हो जाता है। इससे बचने के लिए फोन सेटिंग में जाएं। यहां एप्स के विकल्प पर क्लिक करें। यहां फोन की मेमोरी, एसडी कार्ड में सेव एप अलग-अलग दिखाई देंगे। स्क्रीन को स्वाइप करने पर बैकग्राउंड में चलने वाले एप की जानकारी मिलेगी। फिर गैर जरूरी या ऐसे एप पर टैप करें जिनका इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं लेकिन वे रैम की खपत कर रहे हैं।  इन एप पर टैप करने के बाद फोर्स स्टॉप के विकल्प पर क्लिक कर दें।

कैशे को करते रहें साफ-

एप्लीकेशन जितनी इस्तेमाल होती हैं उसके उतने ही कैशे बनते हैं। इन कैशे से स्मार्टफोन में इंटरनेट स्पीड और फोन का प्रोसेसर दोनों ही धीमे हो जाते हैं। फोन की स्पीड बढ़ाने के लिए इन ‘कैशे’ को निरंतर डिलीट करते रहना चाहिए। डिलीट करने के लिए सेटिंग में ‘स्टोरेज’ के विकल्प को खोलें। इसमें ‘क्लीयर कैशे’ का विकल्प मिलेगा उस पर क्लिक करके कैशे को फोन से हटा दें। इसके अलावा फोन में ‘सेटिंग्स’ के विकल्प पर जाकर एप्लीकेशन मैनेजर पर क्लिक करें। इसके बाद जिस एप में दिक्कत है उस पर क्लिक करके क्लीयर कैशे विकल्प पर क्लिक करें।

ब्राउजर को रखें अपडेट

फोन में पुराना ब्राउजर इंटरनेट की स्पीड धीमा कर सकता है। कंपनियां अपने अपडेट में छोटी-छोटी कमियों को दूर करती रहती हैं और एप बेहतर होता जाता है। इसलिए अपने फोन के ब्राउजर को हमेशा अपडेट रखें।

कम स्पेस से भी हैंग होता है फोन

फोन की इंटरनल मेमोरी को फुल न होने दें। इससे फोन और इंटरनेट दोनों की स्पीड प्रभावित होती है। इससे बचने के लिए यूजर को अपने फोन का डाटा क्लाउड सेवा गूगल ड्राइव या वन ड्राइव में सेव कर लेना चाहिए, ताकि वह फोन की इंटरनल मेमोरी में मौजूद तस्वीरों और विडियो को डिलीट कर सके। इंटरनल मेमोरी खाली होने पर फोन की स्पीड भी बढ़ जाएगी।