इटावा में विवाहिता की हत्या का आरोपी प्रेमी पुलिस के हत्थे चढा

इटावा। उत्तर प्रदेश की इटावा पुलिस ने लवेदी इलाके में विवाहिता की हत्या के आरोप में उसके प्रेमी को गिरफ्तार करने का दावा किया है।

अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण रामबदन सिंह ने रविवार को यहां पत्रकारों काे बताया कि एक नवम्बर को लखनपुरा गांव में पांच बच्चों की मां उमादेवी (37) की धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी गयी थी। मृतका के भाई ने इस मामले में उसके जेठ समेत चार लोगों के खिलाफ नामजद मामला दर्ज कराया था।

पुलिस की पड़ताल में सामने आया कि महिला की हत्या उससे दस साल छोटे प्रेमी तेजबहादुर सिंह ने की थी। आरोपी को पुलिस ने अाज लखना चकरनगर रोड ग्राम टकरूपुरा के पास से गिरफ्तार कर लिया और उसकी निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त चाकू के अलावा महिला की शॉल को बरामद कर लिया।

पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल करते हुये आरोपी ने बताया कि उमादेवी का पति अतर सिंह अहमदाबाद में प्राइवेट नौकरी करता है जो अपने घर पर कभी-कभी ही आता है। हत्यारोपी के मृतका से अवैध सम्बन्ध थे। मृतका ने हत्यारोपी कोे भरोसा दिलाया गया था कि वह अपने भाई की साली से उसकी शादी करा देगी, लेकिन काफी समय बीत जाने के बाद भी मृतका ने हत्यारोपी की शादी नहीं कराई और न ही और कहीं से होने दे रही थी।

हत्यारोपी ने बताया कि वह रात में उमादेवी के पास रहता था फिर भी दिन में उसे 20-25 बार फोन कॉल करके परेशान करती थी। जिस कारण वह मानसिक व शारीरिक रूप से परेशान हो गया था तथा हत्यारोपी को यह लगने लगा कि जब तक वह जिन्दा रहेगी तब तक हत्योरोपी की शादी ओर कहीं से नही होने देगी। परेशान होकर उसने उमादेवी की चाकू से गला रेत उसकी हत्या कर दी।

हत्या की इस वारदात का खुलासा करने वाले पुलिस दल को एसएसपी अशोक कुमार त्रिपाठी ने दस हजार रूपए के पुरस्कार से पुरस्कृत किया है।