मालगाड़ी के टैंक क्रॉस कर रहे व्यक्ति की इलेक्ट्रिक लाइन से छूने से जलकर मौत

अलवर। राजस्थान में अलवर रेलवे जंक्शन पर रविवार शाम पेट्रोलियम पदार्थ ले जाने वाली मालगाड़ी के टैंक क्रॉस कर रहे एक व्यक्ति की इलेक्ट्रिक लाइन से छू जाने पर उसकी जलकर मौत हो गई।

स्टेशन मास्टर रंग लाल मीणा ने बताया कि शाम छह बजे उन्हें सूचना मिली की मालगाड़ी के टैंकर पर चढ़कर प्लेटफार्म चेंज कर रहे एक व्यक्ति ऊपर से जा रही इलेक्ट्रिक लाइन से छूकर जल गया है। तुरंत ही इसकी सूचना स्थानीय प्रशासन और रेलवे प्रशासन को दी और वह स्वयं बाइक से मौके पर पहुंचे।

उस वक्त वह टंकी खाली थी देखा था एक व्यक्ति टंकी के ऊपर जल रहा था तुरंत ही पास की दुकान से बांस लिया और उसको हटाने के प्रयास किए और उसको नीचे गिरा दिया। उसके बाद एंबुलेंस को मौके पर बुलाया गया जब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

उन्होंने बताया कि मृतक के शव को राजकीय सामान्य चिकित्सालय के मुर्दा घर में रखवाया है। मृतक के जेब से मिली आईडी के आधार पर उसकी पहचान अलवर जिले के गोविंदगढ़ कस्बे के अंबेडकर कॉलोनी निवासी मनीष कुमार पुत्र हरभजन के रूप में हुई है।

मृतक बीकानेर के पीबीएम हॉस्पिटल में मेल नर्स के रूप में कार्यरत है और वह गोविंदगढ़ से रविवार शाम को बीकानेर जाने के लिए अलवर आया था और एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर जाने के लिए उसने शॉर्टकट रूप में अलवर रेलवे जंक्शन पर खड़ी मालगाड़ी के पेट्रोलियम टैंक के ऊपर से चढ़कर जाने लगा तभी यह हादसा हो गया।

उन्होंने बताया कि यह माल गाड़ी अहमदाबाद से पेट्रोलियम पदार्थ लेने उत्तर प्रदेश के मथुरा रिफाइनरी जा रही थी। जिस लाइन से यह टच हुआ है वह 25000 वोल्टेज की लाइन है। अब अलवर में इलेक्ट्रिक लाइन डालने के बाद यह पहला हादसा हुआ है।

जानकारी के अनुसार इस मालगाड़ी में 55 टैंकर लगे हुए थे जो खाली थे अगर यह टैंकर भरे होते तो निश्चित रूप से अलवर रेलवे स्टेशन के आसपास की सभी कॉलोनियों में तबाही मचा देते।