अस्पताल में मौत, शव वाहन नहीं मिलने पर ठेले पर ले गए डेड बॉडी

Man pulls handcart for 6 km to carry kin's dead body in Sagar
Man pulls handcart for 6 km to carry kin’s dead body in Sagar

सागर। मध्यप्रदेश के सागर जिला मुख्यालय के बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज (बीएमसी) में उपचार के दौरान मृत एक व्यक्ति के परिजन को वाहन नहीं मिलने पर उसका शव ठेले पर ले जाने के लिए मजबूर होना पड़ा।

यहां के भगतसिंह वार्ड का निवासी प्रकाश अहिरवार पिछले पांच दिनों से बीएमसी में उपचाररत था। शुक्रवार देर रात उसकी मौत हो गई। बीएमसी में प्रकाश के परिजन में केवल उसका बहनोई सुरेश लाडिया था। वाहन नहीं मिलने पर शनिवार दोपहर वह ठेले पर ही प्रकाश के शव को लगभग पांच किलोमीटर दूर स्थित घर तक ले गया।

सुरेश ने बताया कि सुबह उसने अस्पताल में मौजूद चिकित्सकों और अन्य लोगों से शव घर ले जाने के लिए वाहन मांगा तो उसे मना कर दिया गया। उसके अनुसार आॅटो वालों से बात की तो वह एक हजार रुपए मांग रहे थे, इसलिए वह ठेले पर शव को ले गया।

इस मामले में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ इंद्राज सिंह का कहना है कि मृतक के परिजन ने शव वाहन की मांग ही नहीं की। अगर मामला उनके संज्ञान में आता तो तत्काल शव वाहन उपलब्ध कराया जाता।