सावन के दूसरे सोमवार को कृतिका नक्षत्र में बन रहे कई शुभ संयोग

सबगुरु न्यूज। भगवान शिव को अति प्रिय सावन मास का पहला सोमवार 26 जुलाई को था और 2 अगस्त को सावन का दूसरा सोमवार है।

सावन के दूसरे सोमवार को भगवान महादेव की कृपा पाने का विशेष अवसर मिलने वाला है। ये सोमवार कृतिका नक्षत्र में पड़ने वाला है। इसका एक बड़ा महत्व है। वहीं, सोमवार को कई शुभ संयोग भी बन रहे हैं जो इस दिन के व्रत की महीमा को और भी बढ़ा देते हैं।

ज्योतिषाचार्य बताते हैं कि बनारस पंचांग के अनुसार सावन का दूसरा सोमवार 2 अगस्त को है। इस दिन तिथि नवमी और कृत्तिका नक्षत्र रहेगा। सोमवार को चंद्रमा वृषभ राशि में गोचर करेगा, जहां पर राहु पहले से ही विराजमान है। राहु और चंद्रमा से इस दिन ग्रहण योग का निर्माण होगा। सावन मास की कृष्ण पक्ष की नवमी तिथि रहेगी।

हिंदू धर्म में नवमी की तिथि का विशेष महत्व माना गया है। नवमी की तिथि का संबंध भगवान राम से भी है। भगवान राम का जन्म इसी तिथि में हुआ था। इसके साथ ही इस तिथि में मां सिद्धिदात्री देवी का पूजन किया जाता है। इस दिन भगवान शिव की पूजा का विशेष पुण्य प्राप्त होगा। नवमी की तिथि में पूजा और शुभ कार्य का फल अक्षय होता है।

इस सोमवार को शिव पूजन का विशेष महत्व रहेगा। हिंदू धर्म के अनुसार 27 नक्षत्र हैं। इसमें तीसरे नक्षत्र का नाम भगवान शिव के बड़े पुत्र भगवान कार्तिकेय के नाम पर रखा गया है। इस नक्षत्र के स्वामी सूर्य और राशि के स्वामी शुक्र हैं।

सोमवार को इन सब के बीच सूर्य कर्क राशि में बुध ग्रह के साथ बुधादित्य योग बना रहे हैं। वहीं शुक्र सिंह राशि में मंगल के साथ युति बना रहे हैं। जो अनंत फल देने वाला हो जाता है। इसलिए इस सोमवार का व्रत और शिव पूजन विशेष महत्व रखने वाला है।