दिग्गज कंपनियों में बिकवाली से लुढ़का सेंसेक्स

मुंबई। एचडीएफसी बैंक और रिलांयस इंस्ट्रीज जैसी दिग्गज कंपनियों के शेयरों में बिकवाली के दबाव में आज सेंसेक्स में मामूली गिरावट रही जबकि निफ्टी लगातार तीसरे दिन हरे निशान में बंद हुआ।

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 14.37 अंक यानी 0.03 प्रतिशत टूटकर 50,637.34 अंक पर आ गया। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 10.75 अंक यानी 0.07 प्रतिशत की बढ़त में 15,208.45 अंक पर पहुंच गया जो 03 मार्च के बाद का उच्चतम स्तर है।

कोविड-19 के पिछले 24 घंटे में दो लाख से कम नए मामले आने के कारण बाजार में सुबह अच्छी तेजी रही और सेंसेक्स 300 अंक से अधिक चढ़ गया। बाद में इसकी तेजी कम होती गई और दोपहर बाद सेंसेक्स और निफ्टी लाल निशान में उतर गये। अंत में सेंसेक्स गिरावट में ही बंद हुआ जबकि निफ्टी वापसी करने में कामयाब रहा।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के आज सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 1,96,427 नये मामले सामने आए हैं।

मझौली कंपनियों में निवेशक बिकवाल रहे जबकि छोटी कंपनियों में उन्होंने पैसा लगाया। बीएसई का मिडकैप 0.31 प्रतिशत फिसलकर 21,602 अंक पर बंद हुआ। छोटी कंपनियों का सूचकांक स्मॉलकैप 0.26 फीसदी की बढ़त के साथ 23,351.87 अंक पर पहुंच गया।

एचडीएफसी बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज और एक्सिस बैंक ने सेंसेक्स पर सबसे अधिक दबाव बनाया। हालांकि इंफोसिस, टीसीएस और एशियन पेंट्स के शेयरों में हुई खरीददारी ने इसे ज्यादा नहीं लुढ़कने दिया।

सेंसेक्स की 30 में से 21 कंपनियों के शेयर बढ़त में बंद हुये जबकि अन्य नौ में गिरावट रही। एचडीएफसी बैंक का शेयर 2.02 प्रतिशत टूट गया। एक्सिस बैंक का शेयर 1.26 फीसदी और रिलायंस इंडस्ट्रीज का 1.06 फीसदी लुढ़का।

एशियन पेंट्स का शेयर 3.38 प्रतिशत चढ़ा। टाइटन में 3.22 प्रतिशत, बजाज फिनसर्व में 1.87 प्रतिशत, ओएनजीसी में 1.42 प्रतिशत, टीसीएस में 1.04 प्रतिशत और इंफोसिस में 1.02 प्रतिशत की तेजी रही।

विदेशों में अधिकतर प्रमुख शेयर बाजारों में मजबूती रही। एशिया में चीन का शंघाई कंपोजिट 2.40 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 1.75 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.86 प्रतिशत और जापान का निक्केई 0.67 प्रतिशत चढ़कर बंद हुआ। यूरोप में शुरुआती कारोबार में जर्मनी का डैक्स 0.80 फीसदी और ​ब्रिटेन का एफटीएसई 0.06 प्रतिशत मजबूत हुआ।

सेंसेक्स 270.42 अंक की मजबूती के साथ 50,922.32 अंक पर खुला और कुछ ही देर में 50,961.35 अंक तक पहुंच गया। इसके बाद इसका ग्राफ नीचे की ओर उतरने लगा। दिग्गज कंपनियों में मुनाफावसूली के दबाव में दोपहर बाद यह गिरावट में चला गया। बीच कारोबार में एक समय 50,474.34 अंक तक लुढ़कने के बाद अंत में गत दिवस की तुलना में 0.03 प्रतिशत नीचे 50,637.53 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई में कुल 3,281 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,786 कंपनियों के शेयरों में तेजी और अन्य 1,342 में गिरावट रही जबकि शेष 153 कंपनियों के शेयर दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित बंद हुए।

निफ्टी भी 94.05 अंक चढ़कर 15,291.75 अंक पर खुला। इसका दिवस का उच्चतम स्तर 15,293.85 अंक रहा। सेंसेक्स की तरह यह भी दोपहर के बाद लाल निशान में चला गया और 15,163.40 अंक तक उतर गया। अंत में गत दिवस की तुलना में 0.07 फीसदी ऊपर 15,208.45 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 38 कंपनियों के शेयर हरे निशान में और अन्य 11 के लाल निशान में रहे जबकि बजाज ऑटो का शेयर पिछले दिवस के स्तर पर ही बंद हुआ।