शेयर बाजार में गिरावट जारी, सेंसेक्स 162.35 अंक लुढका

Heavy fall in Sensex
Heavy fall in Sensex

मुम्बई। वैश्विक बाजारों से मिले कमजोर संकेतों के बीच वित्तीय घाटे के आंकड़े और पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के बाद बैंकिंग क्षेत्र पर बढ़ रहे दबाव से हताश घरेलू संस्थागत निवेशकों ने आज जमकर बिकवाली की, जिससे बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 162.35 अंक लुढ़ककर 34,184.04 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 61.45 अंक फिसलकर 10,492.85 अंक पर बंद हुआ।

वैश्विक रुख के अलावा कई घरेलू कारणों से निवेशकों की धारणा कमजोर हुई है जिससे शेयर बाजार लगातार दूसरे दिन गिरावट में रहे। अप्रैल-जनवरी में वित्तीय घाटा 6.67 लाख करोड़ रहा जबकि गत वर्ष की समान अवधि में यह आंकड़ा 5.64 लाख करोड़ रुपए रहा था।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट में 5.9 लाख करोड़ रुपए के अनुमानित वित्तीय घाटा लक्ष्य की घोषणा की थी लेकिन वित्तीय घाटा उससे कहीं अधिक हुआ है। इसके अलावा निजी क्षेत्र के बैंक आईसीआईसीआई ने भी यह खुलासा किया है कि उससे नीरव मोदी ने कोई ऋण नहीं लिया है लेकिन उसने पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में कथित रूप से संलिप्त गीतांजलि समूह को कार्यशील पूंजी ऋण प्रदान किया है। बैंक के इस खुलासे और पीएनबीबी घोटाले में नित नई कार्रवाई होने से बैंकिंग समूह दबाव में है।

अमरीकी डॉलर के मुकाबले भारतीय मुद्रा भी लगातार तीसरे दिन टूटी है और निवेशक विनिर्माण गतिविधियों के फरवरी में सुस्त रहने की रिपोर्ट से भी हतोत्साहित हुए हैं। उपभोक्ता मांग सुस्त होने से धातु समूह के सूचकांक में सबसे अधिक गिरावट रही।

विदेशी बाजारों में अमेरिकी फेडरल रिजर्व के नये अध्यक्ष जेरोम पॉवेल के बयान का असर हावी है।  पॉवेल ने कल अमेरिकी कांग्रेस में दिये अपने बयान में ब्याज दर बढाये जाने की रफ्तार तेज करने के संकेत दिये हैं। ब्याज दर बढ़ने की स्थिति में निवेशकों का रूझान जोखिम भरी परिसंपत्ति में कम हो जाता है। इसी बीच चीन के सुस्त विनिर्माण आंकड़े से एशियाई बाजार भी धराशायी हो गये हैं।

विदेशी बाजारों के गिरावट में रहने की खबर से सेंसेक्स गिरावट में 34,155.63 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 34,302.74 अंक के उच्चतम और 34,076.45 अंक के निचले स्तर को छूने के बाद यह गत दिवस की तुलना में 0.47 फीसदी लुढ़ककर 34,184.04 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की मात्र सात कंपनियां हरे निशान में अपनी जगह बना पायीं।

निफ्टी भी गिरावट में 10,488.95 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 10,5355.50 अंक के उच्चतम और 10,461.55 अंक के निचले स्तर को छूने के बाद गत दिवस की तुलना में 0.58 प्रतिशत फिसलकर 10,492.85 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 29 कंपनियां गिरावट में रहीं और शेष 21 में तेजी रही।

बीएसई के 20 समूहों में से मात्र चार समूहों के सूचकांक में तेजी रही। बीएसई में कल 2,869 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 1,123 कंपनियों में तेजी, 1,575 में गिरावट और 171 के भाव अपरिवर्तित रहे।

दिग्गज कंपनियों की तरह मंझोली कंपनियां भी दबाव में रहीं। हालांकि छोटी कंपनियों में लिवाली का जोर रहा। बीएसई का मिडकैप 0.23 प्रतिशत यानी 38.46 अंक गिरकर 16,562.59 अंक पर बंद हुआ। स्मॉलकैप 0.21 प्रतिशत यानी 37.80 अंक की तेजी में 18,127.93 अंक पर बंद हुआ।

विदेशी बाजारों में गिरावट का रुख हावी है। यूरोपीय बाजारों में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.25 प्रतिशत और जर्मनी का डैक्स 0.24 प्रतिशत की गिरावट में खुला। एशियाई बाजारों में जापान का निक्की 0.61, हांगकांग का हैंगशैंग 1.36, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 1.17 और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.99 प्रतिशत की गिरावट में बंद हुए।

बीएसई के 20 समूहों में से मात्र रिएल्टी 0.12, आईटी 0.85, सीडी 0.23 और रिएल्टी में 0.12 प्रतिशत की तेजी में रहे। धातु समूह के सूचकांक में 1.21 और बैंकिंग में 0.96 फीसदी की गिरावट रही। इसके अलावा बेसिक मैटेरियल्स 0.71, सीडीजीएस 0.05, ऊर्जा 0.02, एफएमसीजी 0.69, वित्त 0.82, स्वास्थ्य 0.20, इंडस्ट्रियल्स 0.26, दूरसंचार 0.26, ऑटो 0.11, पूंजीगत वस्तु 0.65, तेल एवं गैस 0.18, बिजली 0.51 और पीएसयू 0.47 फीसदी की गिरावट में रहे।

सेंसेक्स की 30 में से मात्र सात कंपनियां हरे निशान में रहीं। इंफोसिस के शेयरों में 2.26, एशियन पेंट्स में 0.52, भारतीय स्टेट बैंक में 0.35, पावर ग्रिड में 0.28, रिलायंस में 0.26, हीरो मोटाकॉर्प में 0.14 और डॉ रेड्डीज में 0.07 फीसदी की तेजी रही।

हिंदुस्तान यूनीलीवर के शेयरों में सर्वाधिक 2.02 फीसदी की गिरावट रही। आईसीआईसीआई बैंक में 1.92, सन फार्मा में 1.75, महिंद्रा एंड महिंद्रा में 1.62, एक्सिस बैंक में 1.47, यस बैँक 1.47, एल एंड टी में 1.40,एनटीपीसी में 1.36, एचडीएफसी बैंक में 1.27, भारती एयरटेल में 0.86, टाटा मोटर्स में 0.71, एचडीएफसी में 0.69, कोटक बैँक में 0.52, इंडसइंड बैँंक में 0.51, बजाज ऑटो में 0.50, आईटीसी में 0.41, कोल इंडिया में 0.35, अदानी पोटर्स में 0.22, मारुति में 0.21, ओएनजीसी में 0.21, टीसीएस में 0.16, विप्रो में 0.14 और टाटा स्टील में 0.02 प्रतिशत की गिरावट रही।

आपको यह खबर अच्छी लगे तो SHARE जरुर कीजिये और  FACEBOOK पर PAGE LIKE  कीजिए, और खबरों के लिए पढते रहे Sabguru News और ख़ास VIDEO के लिए HOT NEWS UPDATE और वीडियो के लिए विजिट करे हमारा चैनल और सब्सक्राइब भी करे सबगुरु न्यूज़ वीडियो