मारुति के कार मालिकों के लिए कंपनी की नयी सेवा. मौके पर ही पहुंचेगा मैकेनिक

Maruti Suzuki on road service, Maruti Care App, QRT Service
Maruti Suzuki on road service, Maruti Care App, QRT Service

नयी दिल्ली । देश की अग्रणी यात्री कार कंपनी के मालिकों के लिए अच्छी खबर है। यदि आप अपनी कार लेकर निकलें और यह रास्ते में कहीं खराब हो जाती है तो घबराने की जरुरत नहीं है। कंपनी ने ऐसी सेवा शुरु की है जिसके तहत मौके पर ही मैकेनिक पहुंचेगा और कार दुरुस्त करेगा।

कंपनी की “ क्विक रिस्पांस टीम आन बाईक्स” (क्यूआरटी) सेवा की शुरुआत गुरुवार को प्रबंधक निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी कीनिचि आयूकावा ने की है।

क्यूआरटी सेवा कार मालिकों को विस्तार वारंटी पेशकश के तहत फ्री मुहैया कराया जायेगा। ऐसे कार मालिक जो मारुति सुजूकी की वारंटी और विस्तार वारंटी सेवा के दायरे में नहीं हैं उन्हें क्यूआरटी सेवा को प्रति काॅल के आधार पर उपलब्ध कराया जायेगा। इसका शुल्क जहां पर ग्राहक की कार खराब होती है और उसकी दूरी कितनी है उस पर निर्भर करेगा। यह शुल्क 420 रुपए से 575 रुपए के बीच होगा।

आयूकावा ने सेवा का शुभारंभ करते कहा कि ग्राहक की सुविधा मारुति के लिए हमेशा सर्वोपरि रही है। कंपनी लगातार ग्राहकों को ऐसी सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए तत्पर है जो ग्राहकों के लिये सुविधाजनक हो। उन्होंने कहा कि दो दशक पहले कंपनी ने सड़क के किनारे सहायता सेवा उपलब्ध कराने की शुरुआत की थी और क्यूआरटी इस दिशा में और बड़ा कदम है जो ग्राहकों की चिंताओं को दूर करने में बहुत मददगार साबित होगा।

उन्होंने बताया कि पहले चरण में 251 शहरों में 350 बाइक सवार मैकनिकों के दस्ते की शुरुआत की है। इसे धीरे धीरे वर्ष 2020 तक 500 शहरों में पहुंचाया जायेगा और मैकनिकों की संख्या एक हजार की जायेगी। ये मैकनिक पूरी तरह निपुण होंगे और ग्राहक की कार जहां खराब हुई है वहां से फोन काॅल आने के बाद कम से कम समय में पहुंचकर त्रुटि को दूर करेंगे।

इस सेवा का इस्तेमाल ग्राहक मारुति केयर ऐप अथवा मारुति आन रोड सर्विस के टाल फ्री नंबर पर कर प्राप्त कर सकेेंगे। कंपनी की ऐरेना सेवा के लिए टाॅल फ्री नंबर 18001021800 और नेक्सा के लिए 18001026392 होगा। ऐप या टोल फ्री नंबर पर शिकायत मिलने के बाद वेब आधारित प्रणाली जीपीएस स्थान का पता लगायेगा और उसके बाद मैकनिक को शिकायत दे दी जायेगी। उपभोक्ता और मैकेनिक फोन पर भी बातचीत कर सकते हैं । इसके जरिये ग्राहक को यह पता चल जायेगा कि मैकेनिक कितनी देर में पहुंच जायेगा। क्यूआरटी मैकेनिक करीब 90 प्रतिशत तक त्रुटि वहीं दुरुस्त करने में सक्षम होंगे।