मैरीकॉम को पद्मविभूषण और पीवी सिंधू को पद्मभूषण

नई दिल्ली। छह बार की विश्व चैंपियन महिला मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम को देश के दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्मविभूषण और देश की पहली विश्व चैंपियन बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू को पद्मभूषण के लिए चुना गया है।

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर शनिवार को सरकार ने पद्म पुरस्कारों की घोषणा की। 2012 के लंदन ओलम्पिक में कांस्य पदक जीत चुकीं और विश्व चैंपियनशिप में छह स्वर्ण सहित कुल आठ पदक जीत चुकी मैरीकॉम को पद्मविभूषण पुरस्कार के लिए चुना गया है। मैरी मुक्केबाजी इतिहास में पहली ऐसी खिलाड़ी हैं जिन्होंने विश्व चैंपियनशिप में आठ पदक जीते हैं। मैरी इस साल फरवरी में टोक्यो ओलम्पिक के क्वालीफायर टूर्नामेंट में उतरेंगी।

सिंधू को देश के तीसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्मभूषण के लिए चुना गया है। उन्होंने पिछले साल अगस्त में विश्व चैंपियनशिप में महिला एकल खिताब जीता था और बैडमिंटन में विश्व चैंपियन बनने वाली वह पहली भारतीय खिलाड़ी बनी थीं।

सिंधू ने 2016 के रियो ओलम्पिक में रजत पदक जीतकर इतिहास बनाया था। सिंधू बेशक पिछले कुछ महीनों से खराब दौर से गुजर रही हैं लेकिन यह सम्मान उन्हें इस साल होने वाले टोक्यो ओलम्पिक में एक बार फिर पदक जीतने के लिए प्रेरित करेगा।

देश के चौथे नागरिक सम्मान पद्मश्री के लिए क्रिकेटर जहीर खान, महिला फुटबॉलर बेमबेम देवी, पूर्व हॉकी खिलाड़ी एमपी गणेश, निशानेबाज जीतू राय, महिला हॉकी खिलाड़ी रानी रामपाल और तीरंदाज तरुणदीप राय को चुना गया है।

36 वर्षीय मैरी को 2003 में अर्जुन पुरस्कार, 2006 में पद्मश्री, 2009 में राजीव गांधी खेल रत्न और 2013 में पद्मभूषण से सम्मानित किया जा चुका है जबकि सिंधू को 2013 में अर्जुन पुरस्कार, 2015 में पद्मश्री और 2016 में राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है।