मिस्र के एक अस्पताल में भीषण आग, कोविड-19 के सात मरीजों की मौत

काहिरा। मिस्र के तटीय शहर एलेक्जेंड्रिया में एक निजी अस्पताल में भीषण आग लगने से कोरोना वायरस (कोविड-19) से संक्रमित कम से कम सात मरीजों की मौत हो गई।

अल-बद्रावी अस्पताल ने मंगलवार को फेसबुक पर एक वक्तव्य जारी कर बताया कि अस्पताल के गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) वार्ड में लगे एक एयर कंडिश्नर में शाॅर्ट सर्किट होने से भीषण आग लग गई जिसके कारण कोविड-19 के सात मरीजों की मौत हो गई जबकि सात अन्य लोग बुरी तरह से झुलस गए। दमकल विभाग की पांच गाड़ियों ने काफी कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।

एम्बुलेंसों के जरिये मरीजों को वहां से हटाकर किसी अन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसी बीच, मिस्र में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण से 83 लोगों की मौत होने से देश में इस महामारी से मरने वालों की संख्या 2872 हो गई है।

मिस्र के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता खालिद मेगाहेद ने मंगलवार को बताया कि इस दौरान कोरोना संक्रमण के 1566 नए मामले सामने आए हैं जिससे कुल संक्रमितों की संख्या 66 हजार का आंकड़ा पार कर 66,754 हो गई है। इस बीच, कोरोना से संक्रमित 412 मरीजों को पूरी तरह से ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। मंत्रालय के मुताबिक देश में अब तक 17,951 लोग पूरी तरह इसके संक्रमण से ठीक हो चुके हैं।

गौरतलब है कि मिस्र में कोरोना संक्रमण का पहला मामला 14 फरवरी को सामने आया था जबकि आठ मार्च को देश में इस महामारी से पहली मौत हुई थी। मिस्र में सरकार धीरे-धीरे चरणबद्ध तरीके से प्रतिबंधों को हटाकर कई प्रकार की आर्थिक गतिविधियों को शुरू करने की इजाजत दे दी है। मिस्र में 260 से अधिक होटलों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ स्थानीय पर्यटकों के लिए अपनी सेवाएं शुरू करने की अनुमति दी गई है।