10 साल की बच्ची के साथ रेप के मामले में मौलवी अरेस्ट

Maulvi Arrested for sexually abusing 10 year old girl in delhi

नई दिल्ली। पूर्वी दिल्ली के गाजीपुर क्षेत्र में नाबालिग लड़की से कथित बलात्कार के मामले में कड़कड़डूमा अदालत ने आरोपी मौलवी को एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

नाबालिग के साथ यौन शोषण के मामले में 34 वर्षीय मौलवी को शुक्रवार शाम दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था उसे अदालत में आज पेश किया गया। पुलिस ने अदालत से मामले में आगे और जांच के लिए मौलवी का रिमांड मांग जिसे स्वीकार कर लिया गया। मौलवी को पाक्सो कानून के तहत गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस ने अदालत से कहा कि इस मामले में अभी मदरसे की और जांच करनी है। इसलिए मौलवी के रिमांड की जरुरत है। मामले में लड़की के पिता ने 21 अप्रेल को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी की उसकी नाबालिग बेटी बाजार गर्ई थी लेकिन लौट कर नहीं आई। पुलिस ने मामला दर्ज कर खोजबीन शुरू कर दी है।

सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर आरोपी लड़की को ले जाते हुए नजर आया। लड़की को 22 अप्रेल को मदरसा से मुक्त कराया। लड़की का मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान भी दर्ज कराया गया। इस मामले में मुख्य आरोपी नाबालिग को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

पीड़ित लड़की ने अपने बयान में बताया कि नाबालिग और मौलवी उसके साथ यौन शोषण करने के बाद कमरे में बंद कर देते थे। बालिका ने यह भी बताया कि मदरसे में कुछ अन्य लोगों ने भी उससे छेड़छाड़ की जिनकी पहचान करने के प्रयास किए जा रहे हैं। मौलवी मदरसे में पिछले कई साल से हैं और इसमें 100 के करीब बच्चों को शिक्षा दी जाती है। कुछ बच्चे मदरसे में ही रहते हैं।