ट्विटर पर आईं मायावती, 6000 फॉलोवर बने

Mayavati came to Twitter, 6000 follow on
Mayavati came to Twitter, 6000 follow on

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने लोकसभा चुनाव से पहले आखिरकार अपना ट्विटर हैंडल बना लिया है। इसमें अभी तक उनके 6000 फॉलोवर हैं।

लखनऊ में बुधवार को बसपा की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि आपको जानकारी दे रहे हैं कि बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व सांसद मायावती पहली बार ट्विटर पर आई हैं। इसके जरिये वह मीडिया और आम जनता से तेजी से जुड़ेंगी। साथ ही राष्ट्रीय और राजनीति के महत्वपूर्ण मसलों पर इसके जरिये अपनी राय देंगी।

मायावती का ट्विटर हैंडल एट द रेट मायावती नाम से है। यह ट्विटर हैंडल अक्टूबर में बनाया गया था लेकिन जनवरी से इस पर मायावती और पार्टी के बयान जारी किए जा रहे हैं।

22 जनवरी को अपने पहले ट्वीट में मायावती ने लिखा है कि भाइयों और बहनों, सम्मान सहित आपको बताना चाहती हूं कि मैं ट्विटर पर आ गई हूं। यह मेरा पहला ट्वीट है। भविष्य में आप सभी से जुड़ने और विचार रखने के लिये मैं इसका इस्तेमाल करूंगी। धन्यवाद।

मायावती का यह पहला ट्वीट हालांकि उस वक्त तक लोगों की नजरों में नहीं आया था जब तक कि राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता तेजस्वी यादव ने मंगलवार को ट्विटर पर उनका स्वागत किया।

यादव ने ट्वीट किया कि 13 जनवरी को लखनऊ में मुलाकात के दौरान उन्होंने बसपा अध्यक्ष को ट्विटर पर आने का आग्रह किया था। तेजस्वी ने लिखा कि आखिरकार आपको यहां देखकर खुशी हुई। मैं खुश हूं कि आपने ट्विटर में आने का मेरा आग्रह मान लिया।

सादर’ बसपा की ओर से मायावती के ट्विटर हैंडल की जानकारी देने वाला बयान जारी होने के कुछ मिनट बाद ही ट्विटर ने उनके हैंडल का सत्यापन कर दिया। अभी तक उनके 6000 फॉलोवर हो चुके हैं। जबकि मायावती सिर्फ ट्विटर सपोर्ट को फॉलो कर रही हैं। इस ट्विटर हैंडल पर पहले 11 में से सात ट्वीट पार्टी की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्तियां हैं।

मायावती ने अपने ट्विटर हैंडल पर अपनी दो पुस्तकों के साथ तस्वीर लगाई है। इसके अलावा इसमें बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर, बसपा की स्थापना करने वाले कांशीराम और बसपा के चुनाव चिह्न की भी तस्वीरें लगाई गई हैं।