महाराष्ट्र में लॉकडाउन के बावजूद मुंबई में होंगे आईपीएल मुकाबले

MCA confident of getting IPL in Mumbai despite lockdown in Maharashtra
MCA confident of getting IPL in Mumbai despite lockdown in Maharashtra

मुंबई। मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने दोहराया है कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए पूरे राज्य में लॉकडाउन लगाने के सरकार के नए आदेश के बावजूद आईपीएल मुकाबलों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा और मैच अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आयोजित होंगे।

एमसीए की ओर से यह स्पष्टीकरण महाराष्ट्र सरकार द्वारा रविवार शाम को राज्य भर में घोषित आंशिक लॉकडाउन के मद्देनजर आया है। एमसीए के एक पदाधिकारी ने सोमवार को एक बयान में कहा कि हमारे पास शहर के निगम आयुक्त का फोन आया है और उनकी ओर से एसोसिएशन को आश्वासन दिया गया है कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन जैसे उपाय आईपीएल मैचों पर कोई प्रभाव नहीं डालेंगे, हालांकि अन्य क्रिकेट गतिविधियों को तुरंत रोकने के निर्देश दिए गए हैं।

पदाधिकारी ने यह भी पुष्टि की कि आईपीएल टीमें पहले की तरह सामान्य रूप से अभ्यास करना जारी रख सकती हैं। कोई भी क्रिकेट गतिविधि जो बायो-बबल (जैव-सुरक्षित वातावरण) का हिस्सा है, उसके आयोजन में किसी प्रकार की कोई बाधा नहीं आएगी।

मुंबई आईपीएल 2021 सत्र के 10 मैचों की मेजबानी करने वाला है और इनमें से कुछ सप्ताहांत में हैं, जिसमें पहला मैच भी शामिल है, जो शनिवार को चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच खेला जाना है। वहीं 10 अप्रैल से 24 अप्रैल तक मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई इंडियंस के लगातार छह टीमों चेन्नई सुपर किंग्स, दिल्ली कैपिटल्स, पंजाब किंग्स, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु, राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ मुकाबले होने हैं।

उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र सरकार ने रविवार दोपहर काे कैबिनेट बैठक के बाद सप्ताहांत के दौरान पूरी तरह से लॉकडाउन सहित आंशिक लॉकडाउन की घोषणा की थी। इसके तहत शुक्रवार से सोमवार तक रात आठ से सुबह सात बजे तक लॉकडाउन रहेगा।

चिंता का विषय यह है कि महाराष्ट्र में फिर से कोरोना के सक्रिय मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। यहां शनिवार को 49 हजार से अधिक नए मामले दर्ज किए गए हैं। इस दौरान अकेले मुंबई में ही नौ हजार से अधिक मामले सामने आए हैं, जिसमें बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) की परेशानी बढ़ा दी है। लेकिन मुंबई स्थित एक फ्रैंचाइजी के एक अधिकारी के अनुसार नए आश्वासन से बीसीसीआई को जरूर राहत मिली होगी।