फरवरी में डोनाल्ड ट्रम्प पर महाभियोग की सुनवाई शुरू करने का प्रस्ताव

वाशिंगटन। अमरीकी सीनेट (उच्च सदन) में अल्पसंख्यक नेता मिच मैककोनेल ने फरवरी में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के महाभियोग पर सुनवाई करने का प्रस्ताव रखा।

ट्रंप पर कैपिटल हिल पर गत छह जनवरी को दंगे भड़काने के आरोप में अमरीकी उच्च सदन ने पिछले सप्ताह महाभियोग चलाया था। ट्रम्प ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि कैपिटल हिल में प्रदर्शनकारियों के आने से पहले उन्होंने जो भाषण दिया वह पूरी तरह से उचित था। समर्थक कांग्रेस को राष्ट्रपति जो बिडेन की चुनावी जीत को प्रमाणित करने से रोकने की कोशिश कर रहे थे।

मैककोनेल ने गुरूवार को कहा कि महाभियोग पर 28 जनवरी को होने वाली सुनवाई के लिए पूर्व राष्ट्रपति ट्रम्प के पास चार फरवरी को महाभियोग पर जवाब देने के लिए उस दिन से एक सप्ताह का समय है।

मैककॉनेल के कार्यालय ने गुरुवार को एक बयान में कहा कि उच्च सदन का प्री-ट्रायल बहुत संक्षिप्त होगा। पूर्व राष्ट्रपति के पास एक सप्ताह का समय होगा। वह 11 फरवरी तक प्री-ट्रायल पर संक्षिप्त रूप से अपना जवाब प्रस्तुत कर सकेंगे। कुल मिलाकर ट्रंप के पास जवाब देने के लिए 14 दिन का समय है। सदन इस पर दो दिन में 13 फरवरी तक जवाब देगा। उन्होंने कहा कि सीनेट के प्रमुख नेता चक शूमर को प्रस्ताव भेजा है।

कई मीडिया आउटलेट्स ने बताया कि सीनेटर लिंडसे ग्राहम ने एक कॉन्फ्रेंस कॉल पर रिपब्लिकन सहयोगियों को बताया कि ट्रम्प ने अपने महाभियोग की पैरवी करने के लिए दक्षिण कैरोलिना के अधिवक्ता बुच बोवर्स चयन किया है।