लडकी की दरिंदगी से तंग आकर की मेडिकल छात्र ने की सुसाइड?

Medical student commits suicide after being allegedly ragged by college seniors in bhopal
Medical student commits suicide after being allegedly ragged by college seniors in bhopal

बैतूल। मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में राजधानी भोपाल के एक मेडिकल स्टूडेंट की सुसाइड से जुड़े हाईप्रोफाइल मामले में एक सेवानिवृत आला अधिकारी की बेटी का मुख्य आरोपी के तौर पर नाम सामने के बाद से इस मामले ने सनसनी फैला दी है।

भोपाल के एक निजी मेडिकल कॉलेज में पढ़ने वाले छात्र यश पाठे ने 13 जून को बैतूल में आत्महत्या कर ली थी। इस मामले में पुलिस ने एक युवती समेत पांच लोगों को आरोपी बनाया है। युवती राजधानी में पदस्थ रहे एक आला अधिकारी की बेटी है।

इस मामले में एक वीडियो भी वायरल हुआ है, जिसमें युवती समेत दो लोग मृत छात्र यश पाठे को बुरी तरह प्रताड़ित करते और उसके साथ अमानवीय तरीके से मारपीट करते दिख रहे हैं। समझा जा रहा है कि इस प्रकार की प्रताड़ना से तंग आकर ही छात्र ने आतमहत्या कर ली।

बैतूल पुलिस अधीक्षक डीआर तेनीवार के मुताबिक जांच में पाया गया है कि यश के साथ 11 एवं 12 जून को भोपाल में मारपीट की गई थी। इस मामले में पांच आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। गिरोह की मुखिया श्रुति शर्मा है, जो नशीले पदार्थ का सेवन करती है। गिरोह अपने नशे के लिए पैसा प्राप्त करने इस तरह से दूसरों को प्रताड़ित करते हैं। फरार आरोपितों की तलाश की जा रही है, जल्द ही वे गिरफ्त में होंगे।

मृत छात्र के पिता प्रहलाद पाठे ने अपने पुत्र को प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगाया था। इसके बाद मंगलवार को 19 सेकंड का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, जिसमें एक युवती और 2 युवक मौजूद हैं, जो एक छात्र की बेल्ट और मुक्कों से बेरहमी से पिटाई कर रहे हैं।

वीडियो में जिस युवक की पिटाई हो रही है उसके यश पाठे होने की पुष्टि उसके पिता प्रहलाद पाठे ने की है। वीडियो में दिख रही युवती पिट रहे छात्र को धमकाती हुई दिखाई दे रही है। बताया जा रहा है कि युवती श्रुति शर्मा कॉलेज की छात्रा नहीं है, लेकिन उसका बेखौफ तरीके से वहां आना जाना है।

वहीं कोतवाली थाना प्रभारी राजेश साहू ने बताया कि मामले में पांच लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। इनमें से गौरव दुबे और आकाश सोनी को गिरफ्तार कर मंगलवार को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेजने के आदेश दिए गए हैं। फरार आरोपित भोपाल निवासी शालीन उपाध्याय, श्रुति शर्मा और सतना निवासी कार्तिक खरे की तलाश के लिए टीमें लगी हुईं हैं।