ट्रेन में अकेली यात्रा करने वाली महिला को मिलेगी सुरक्षा

अजमेर। ट्रेन में अकेली यात्रा करने वाली महिला को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए अजमेर मंडल रेलवे ने शुक्रवार से ‘मेरी सहेली’ अभियान की शुरुआत की।

रेल प्रबन्धक नवीन कुमार परसुरामका के निर्देश पर रेलवे में अकेले यात्रा करने वाली महिला यात्रियों की सुरक्षित यात्रा सुनिश्चित करने के लिए रेलवे सुरक्षा बल अजमेर मेरी सहेली अभियान के तहत सुरक्षा सुनिश्चित करेगा। इसके लिए रेलवे सुरक्षा बल अजमेर मंडल के मंडल सुरक्षा आयुक्त पंकज चुघ ने ‘मेरी सहेली’ टीम का गठन किया है।

मेरी सहेली कार्यक्रम के अन्तर्गत रेलवे सुरक्षा बल की महिला टीम अजमेर से अकेले रेल यात्रा प्रारम्भ करने वाली महिला यात्रियों की सूचना एकत्रित कर उसके गंतव्य स्टेशन तक आने वाले सभी मण्डल सुरक्षा नियंत्रण कक्ष को प्रेषित करेगी, ताकि उक्त महिला यात्री को यात्रा के मध्य में आने वाले स्टेशनो पर रेलवे सुरक्षा बल द्वारा अटैण्ड कर सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके और अकेले यात्रा करने वाली महिला यात्री अपने गंतव्य स्टेशन तक भयमुक्त होकर यात्रा कर सके।

अजमेर मण्डल में सवारी गाडी सं. 02282 (अजमेर-जबलपुर दयोदया एक्स) से मेरी सहेली अभियान का शुक्रवार को शुभारम्भ किया गया। उक्त अभियान का उद्देश्य रेलवे में यात्रा करने वाली अकेली महिला यात्रियों में सुरक्षा की भावना पैदा करना है तथा अकेले यात्रा करने वाली महिला यात्रियों को यात्रा के दौरान आने वाली समस्या का प्रभावी ढंग से निराकरण करना भी है।

“मेरी सहली” टीम स्टेशन प्लेटफार्म पर अकेले यात्रा करने वाली महिला यात्रियों से मिलकर रेल यात्रा में रखी जाने वाली सावधानियों के बारे में समझाईश करेगी साथ ही रेल सुरक्षा बल हैल्पलाईन 182 के बारे में भी बताया जाएगा, ताकि आवश्यकता पडने पर महिला यात्री सुरक्षा हैल्पलाईन पर अपनी शिकायत दर्ज करा सके।

इसके अतिरिक्त कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए रेल यात्रा के दौरान रखी जाने वाली सावधानियों के बारे में जागरुक किया जाएगा। रेलवे सुरक्षा बल, अजमेर द्वारा सुरक्षा हैल्पलाईन 182 का भी व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार किया जा रहा है ताकि यात्रा के दौरान किसी भी यात्री को सुरक्षा सम्बन्धी आवश्यकता पडने पर अविलम्ब सुरक्षा उपलब्ध करवाई जा सके।