गीता को वापिस पाकिस्तान नही भेजा जाएगा : सुषमा स्वराज

Minister of External Affairs Sushma Swaraj talks about mute and deaf girl geeta
Minister of External Affairs Sushma Swaraj talks about mute and deaf girl geeta

इंदौर। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि पाकिस्तान से भारत लाई गई मूकबधिर गीता भारत की बेटी हैं, उसे वापिस पाकिस्तान नहीं भेजा जाएगा।

स्वराज ने यहां संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों के प्रश्नों का उत्तर देते हुए कहा कि भारत सरकार द्वारा तीन वर्ष से गीता के माता पिता को खोजने के प्रयास किए जा रहें हैं। हम अभी भी हार नहीं माने हैं। गीता के माता पिता को खोजने के समुचित प्रयास किए जाएंगे।

स्वराज ने कहा कि इस बीच गीता ने विवाह करने करने की इच्छा जाहिर की हैं। इस दिशा में भी उसके लिए योग्य वर की तलाश की जा रहीं हैं।

गीता के माता-पिता होने का दावा करने वाले दंपत्तियों की लापता बेटियों कि तलाश किए जाने के संबंध में सरकार के क्या प्रयास है के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि ऐसे किसी भी परिवार ने उनसे दोबारा संपर्क नहीं किया हैं। गीता के माता-पिता होने का दावा करने वाले एक दर्जन से अधिक दम्पती का दावा डीएनए टेस्ट मैच नहीं होने से समाप्त हो गया हैं।

पाकिस्तान की जेल में बन्द कुलभूषण जाधव पर पूछे गए प्रश्न पर स्वराज ने कहा जाधव के मामले में भारत अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय गया हैं, जहां मामले की सुनवाई जारी हैं। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय अदालत से जाधव को न्याय मिलेगा।

स्वराज ने पड़ोसी देशों से मैत्री संबंध के प्रश्न पर कहा कि हमारे पाकिस्तान को छोड़ सभी पड़ोसी देशों से बेहतर मैत्री संबंध हैं। उन्होंने कहा इस मामले में हमारी विदेश नीति संतुलित हैं।

पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम के प्रश्न पर स्वराज ने कहा कि तेल की कीमतें अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तय होती हैं। इसमे भारत सरकार का कोई दोष नहीं हैं। स्वराज ने नोटबंदी, वस्तु एवं सेवा कर के प्रश्न पर कहा कि दोनों ही निर्णय भारत सरकार के सफल औऱ साहसिक निर्णय हैं।

मध्यप्रदेश चुनाव में सत्ता विरोधी लहर के प्रश्न का उत्तर देते हुए स्वराज ने कहा कि कोई सत्ता विरोधी लहर नही हैं। उन्होंने प्रदेश कांग्रेस इकाई के शीर्ष नेतृत्व पर तंज कसते हुए कहा कि सत्ता विरोधी लहर के लिए सामने आकर्षक नेतृत्व होना जरूरी हैं।