दिल्ली में 15 साल की लड़की को अगवा कर 60 हजार में बेचा, दो अरेस्ट

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में 15 साल की एक नाबालिग लड़की को अगवा कर उसे 60000 रुपए में राजस्थान में बेचने का सनसनीखेज मामला सामने आया है।

दिल्ली पुलिस ने शालीमार बाग थाने की इस घटना के मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लड़की को राजस्थान के सीकर से अभियुक्तों के चंगुल से मुक्त करा लिया।

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा के संयुक्त आयुक्त आलोक कुमार ने रविवार को बताया कि मुख्य आरोपियों दिल्ली के हैदरपुर के निवासी नीरज सोनकर और राजस्थान के रहने वाले गोपाल लाल को गिरफ्तार किया गया है।

उन्होंने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि नीरज ने दिल्ली के रोहिणी सेक्टर 2 की निवासी मुस्कान और उत्तर प्रदेश के आगरा की रहने वाली शीतल के साथ मिलकर नाबालिग लड़की को राजस्थान के गोपाल लाल के हाथों 60,000 में बेच दिया था।

गोपाल उस लड़की से अपने साले दानवीर उर्फ दाना के साथ शादी करना चाहता था। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर 15 साल की लड़की को गोपाल लाल के पास से बरामद किया।

लड़की को राजस्थान के सीकर से बरामद किया गया, जहां उसे शादी के लिए ले जाया गया था। पुलिस दल ने आरोपियों की गिरफ्तारी और पीड़िता को मुक्त कराने के लिए उत्तर प्रदेश के आगरा और राजस्थान के सीकर में छापेमारी की थी।

उन्होंने बताया कि इस मामले में एक आरोपी दानवीर फरार है। वह उस लड़की से शादी करना चाहता था। इस मामले की आरोपी लड़कियों रोहिणी की मुस्कान और आगरा की शीतल के खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई की जाएगी जाएगी।

कुमार बताया कि लड़की को बेचकर हासिल की गई रकम में से नीरज हिस्से में 30 हजार रुपए आए थे, जो उसकी गिरफ्तारी के साथ ही उससे पुलिस ने बरामद कर लिए गए थे।

उन्होंने बताया कि दिल्ली के शालीमार बाग क्षेत्र में के हैदरपुर की निवासी इस लड़की के गुमशुदगी की शिकायत उसके परिवार वालों ने 16 सितंबर 2021 को शालीमार बाग थाने में की थी। अगले दिन 17 सितंबर को प्राथमिकी दर्ज की गई थी। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि नाबालिग लड़की को अगवा कर उत्तर प्रदेश के आगरा और वहां से उसे राजस्थान ले जाया गया था।