सागरमाला की फर्जी वेबसाइट का भ्रामक विज्ञापन

Misleading advertisement of fake website of Sagaramala
Misleading advertisement of fake website of Sagaramala

नयी दिल्ली । केंद्रीय पोत परिवहन मंत्रालय की सभी बड़े बंदरगाहों को सड़क, रेल तथा जल मार्ग से जोड़ने वाले महत्वाकांक्षी ‘सागरमाला’ कार्यक्रम की किसी ने फर्जी वेबसाइट तैयार की है और उसके जरिए नौकरी देने के भ्रामक विज्ञापन प्रसारित किए जा रहे हैं।

मंत्रालय ने गुरुवार को इस विज्ञापन से लोगों को सावधान रहने का आग्रह किया और कहा कि यह फर्जी वेबसाइट कमोबेश सागरमाला की मूल वेबसाइट जैसी ही प्रतीत होती है और इसमें अभियंता प्रशिक्षु एवं डिप्लोमा प्रशिक्षु की भर्ती के बारे में एक भ्रामक विज्ञापन दिया गया है।

फर्जी वेबसाइट को लेकर मंत्रालय ने कहा है कि उसके संज्ञान में आया है कि उसकी आधिकारिक वेबसाइट के साथ एक फर्जी वेबसाइट लिंक की गयी है और उसके जरिए नौकरी तलाशने वाले युवाओं तथा ‘सागरमाला’ के हितधारकों को ईमेल कर भ्रमित किया जा रहा है। यह विज्ञापन गलत एवं भ्रामक है।

उल्‍लेखनीय है कि इस तरह की धोखाधड़ी, गलतबयानी, जालसाजी और मनगढंत जानकारी देना या छल करना सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम एवं भारतीय दंड संहिता के तहत उल्लंघन है और यह भी इसी दायरे का अपराध है। इस तरह के लोगों के खिलाफ त्वरित एवं कड़ी आपराधिक कार्रवाई शुरू की जा रही है।